शर्मनाक : बीकानेर में महावीर जयंती पर चोर दरवाजे से जमकर बिकी शराब, आबकारी अधिकारी बोले- मैं आज बाहर गया हूं - Khulasa Online

शर्मनाक : बीकानेर में महावीर जयंती पर चोर दरवाजे से जमकर बिकी शराब, आबकारी अधिकारी बोले- मैं आज बाहर गया हूं

- संपादक कुशालसिंह मेड़तिया की रिपोर्ट खुलासा न्यूज, बीकानेर। महावीर जयंती पर ड्राई डे पर भी बीकानेर में चोर दरवाजे से जमकर शराब को बेची जा रही है। शराब की दुकानें खुली रही और सेल्समैन बेधड़क शराब बेचते रहे। नियमों को तोडऩे पर भी पुलिस ने कार्रवाई नहीं की और ना ही आबकारी विभाग द्वारा कोई कार्यवाही की गई। यह नजारा बीकानेर शहर में देखने को मिला।

चौतीना कुआ, सारण पेट्रोल पंप के पास, रानीबाजार सहित कई क्षेत्रों में शराब की दुकानों पर बड़े-बड़े अक्षरों में महावीर जयंती पर सूखा दिवस होने की सूचना लगी होने के बावजूद चोर दरवाजे से शराब की बिक्री हुई और अभी तक जारी है। इस मामले में आबकारी विभाग की लापरवाही तथा अनदेखी सामने आई है। दुकानदारों को प्रशासन का कोई डर नजर नहीं आया। वहीं ग्रामीण क्षेत्रों में यह रोजाना दिनों की तरह दुकानें खोलकर शराब की बिक्री करते हुए दिखाई दिये। ग्रामीणों ने बताया कि देर रात तक शराब की दुकान खुली रहती हैं। ड्राई-डे जैसे अवसर पर भी नियमों की धज्जियां उड़ाई जा रही है।

मॉनिटरिंग की बजाय क्यों सोया है आबकारी विभाग सूखा दिवस पर हुई इस शर्मनाक बिक्री पर लगाम लगाने में आबकारी विभाग फेल साबित हुआ। हालांकि आबकारी की यह असफलता पहली नहीं है। अक्सर रात आठ बजे बाद नियम विरुद्ध शराब की बिक्री होती है। बड़ा सवाल यह है कि क्या आबकारी विभाग इन सबसे अनभिज्ञ है? भगवान महावीर जयंती पर सूखा दिवस घोषित है। आबकारी विभाग को विशेष निगरानी रखकर शराब बिक्री होने से रोकना था, मगर आबकारी विभाग सोया रहा। अब सवाल उठना लाजमी है कि आखिर किसकी शह से शराब कारोबारी ड्राई डे के दिन भी बेधड़कर शराब बिक्री कर रहे है ? शराब कारोबारियों को प्रशासन का डर क्यों नहीं है ? मॉनिटरिंग की बजाय आबकारी विभाग क्यों सोया है ? क्या मासिक बंधी के चलते आबकारी विभाग इन सबसे अनभिज्ञ है ?

इनका कहना है: मैं आज बीकानेर से बाहर गया हूं, मुझे जानकारी नहीं है। - भवानीसिंह, जिला आबकारी अधिकारी, बीकानेर

 
error: Content is protected !!
Join Whatsapp 26