शाहरुख का बेटा आर्यन 7 अक्टूबर तक रिमांड पर; NCB ने जोगेश्वरी से पेडलर को पकड़ा

ड्रग्स मामले में गिरफ्तार शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को 7 अक्टूबर तक NCB की कस्टडी में रहना होगा। सोमवार को मुंबई की किला कोर्ट में सुनवाई के दौरान NCB ने 11 अक्टूबर तक रिमांड मांगी थी। हालांकि कोर्ट ने आर्यन और उसके साथ गिरफ्तार अरबाज मर्चेंट और मुनमुन धमीजा को 7 अक्टूबर तक का ही रिमांड मंजूर किया। अन्य 5 आरोपियों विक्रांत छोकर, इश्मीत सिंह, नुपुर सारिका, गोमित चोपड़ा और मोहक जसवाल को भी 7 अक्टूबर तक NCB की रिमांड पर भेज दिया है।

सुनवाई के दौरान NCB ने आरोपियों से बरामद ड्रग्स की जानकारी दी। पार्टी ऑर्गनाइजर्स और पैडलर्स का भी जिक्र हुआ। सवाल उठा कि क्रूज पर तो 1300 लोग थे, फिर चंद लोगों पर ही कार्रवाई क्यों हो रही है? इस पर आर्यन के वकील सतीश मानशिंदे ने कहा- खान (आर्यन) वहां ड्रग्स बेचने के लिए नहीं गए थे, अगर वो चाहते तो पूरा शिप भी खरीद सकते थे। अगर जांच ही करनी है तो शिप पर एक हजार लोग थे, उनकी भी जांच कीजिए।

मुंबई क्रूज ड्रग्स केस में NCB ने 10वीं गिरफ्तारी की मुंबई क्रूज ड्रग्स केस में NCB ने 10वीं गिरफ्तारी की है। NCB ने जोगेश्वरी से सप्लायर को गिरफ्तार किया है। इसके पास से 5 लाख की MD बरामद की गई है। आज ही एक अन्य 9वें आरोपी की गिरफ्तारी हुई थी। NCB दोनों पेडलर्स को कल कोर्ट में पेश कर सकती है। इसके साथ ही आज क्रूज से जिन लोगों को डिटेन किया गया है उन्हें भी मंगलवार को कोर्ट में पेश किया जा सकता है।

जमानत देने या न देने का तो सवाल ही नहीं उठता सोमवार को सुनवाई के बाद किला कोर्ट ने आदेश में कहा- NDPS एक्ट के तहत तमाम अपराध गैर-जमानती हैं। इसलिए जमानत देने या न देने का तो सवाल ही नहीं उठता। जरूरी बात यह है कि आरोपियों को कस्टडी में भेजा जाए या नहीं।

आरोपियों के सहयोगियों के बयान विरोधाभासी हैं। आरोपी भी उनके साथ थे। इस मामले में जांच बेहद जरूरी है। आरोपियों को खुद को बेकसूर साबित करना होगा। इस आदेश के साथ ही कोर्ट ने आरोपियों को 7 अक्टूबर तक NCB की कस्टडी में रिमांड पर सौंप दिया।

error: Content is protected !!
Join Whatsapp