रुस का बड़ा ऐलान दो शहरों में सीजफायर,लोगों को बाहर निकालने के लिए कॉरिडोर खोलेगा - Khulasa Online

रुस का बड़ा ऐलान दो शहरों में सीजफायर,लोगों को बाहर निकालने के लिए कॉरिडोर खोलेगा

कीव/मास्को। यूक्रेन और रूस के बीच 10वें दिन भी जंग जारी है। मीडिया रिपोट्र्स के मुताबिक रूस ने दो शहरों- मारियुपोल और वोल्नोवाखा में सीजफायर का ऐलान कर दिया है। यूक्रेन में फंसे लोगों को बाहर निकालने के लिए सीजफायर का ऐलान हुआ है। यानी जब तक यहां फंसे हुए लोगों को निकाल नहीं लिया जाता, तब तक हमले नहीं किए जाएंगे। भारतीय समय के अनुसार सुबह 12:30 बजे सीजफायर किया गया। इसके पहले रूस ने हृस्ष्ट की बैठक में कहा- हम यूक्रेन से भारतीय छात्रों और अन्य विदेशी नागरिकों को निकालने के लिए तैयार हैं। हाल ही में पीएम मोदी ने पुतिन से यूक्रेन में फंसे भारतीय छात्रों को रूस के रास्ते रेस्क्यू करने पर चर्चा की थी। रूस सैन्य ठिकानों के अलावा रिहायशी इलाकों में भी लगातार हमले कर रहा है। राजधानी कीव के पास बुका शहर में रूसी सेना ने एक कार पर गोलियां बरसा दी। इस दौरान 17 साल की एक लडक़ी समेत 2 लोगों की मौत हो गई। जबकि 4 लोग घायल हो गए। वहीं, चेर्नीहीव में अब तक हुए हवाई हमलों में 47 लोगों की मौत हो गई है। इसी बीच, कीव के पास मरखलेवका गांव में रूसी एयर स्ट्राइक में 1 बच्चे समेत 6 लोगों की मौत हो गई। रूस ने फेसबुक-ट्विटर को बैन किया यूक्रेन से जंग के बीच रूस ने फेसबुक और ट्विटर पर बैन लगा दिया है। पुतिन प्रशासन ने कहा है कि रूसी मीडिया के कंटेंट पब्लिशिंग में भेदभाव करने की वजह से यह प्रतिबंध लगाया गया है। रूसी सेंसरशिप एजेंसी रोसकोम्नाडजोर ने कहा कि फेसबुक-ट्विटर के खिलाफ 26 मामले आए थे, जिसके बाद यह फैसला किया गया है। वहीं फेसबुक ने बयान जारी कर कहा है कि रूस के इस फैसले से लाखों लोगों को भरोसेमंद जानकारी नहीं मिल सकेगी। रूस ने सरकार समर्थित कंटेंट पर रोक लगाने की वजह से फेसबुक और ट्विटर पर बैन की कार्रवाई की है। रूस ने सरकार समर्थित कंटेंट पर रोक लगाने की वजह से फेसबुक और ट्विटर पर बैन की कार्रवाई की है। जपोरिझिया न्यूक्लियर प्लांट पर अटैक के बाद हृ की मीटिंग यूक्रेन के जपोरिझिया न्यूक्लियर प्लांट पर रूसी हमले के बाद संयुक्त राष्ट्र (हृ) की इमरजेंसी मीटिंग बुलाई गई। इसमें रूसी ऐंबैस्डर ने कहा कि एटमी प्लांट पूरी तरह काम कर रहा है और वहां रूस की कोई दखलअंदाजी नहीं है। इसी बीच अमेरिकी रक्षा मंत्रालय पेंटागन ने दावा किया है कि यूक्रेन ने कीव के बाहर रूसी सैनिकों पर हमले कर उसे कमजोर कर दिया है। यूक्रेन को हथियार भेजने के सवाल पर पेंटागन ने कहा कि यूक्रेन के पास पहले ही पर्याप्त हथियार मौजूद हैं। रूस ने न्यूक्लियर प्लांट में वर्कर्स की हत्या की: यूक्रेन हृ में डिबेट के दौरान यूक्रेन के ऐंबैस्डर सर्गिय किस्लित्सिया ने दावा किया कि रूसी सैनिकों ने न्यूक्लियर प्लांट में काम कर रहे वर्कर्स की हत्या की है। उन्होंने कहा कि सुबह सेना के जवान जपोरिझिया प्लांट के पास पहुंचे और वहां मॉनिटरिंग कर रहे कर्मचारियों पर गोलीबारी शुरू कर दी। यूक्रेन ने कहा कि रूसी आतंक को रोकना पूरी दुनिया का कर्तव्य है। यूक्रेन ने कहा है कि रूस ने न्यूक्लियर प्लांट के एडमिन ब्लॉक पर कब्जा कर लिया है। अगर उसे नहीं हटाया गया, तो पूरा यूरोप बर्बाद हो जाएगा। यूक्रेन ने कहा है कि रूस ने न्यूक्लियर प्लांट के एडमिन ब्लॉक पर कब्जा कर लिया है। अगर उसे नहीं हटाया गया, तो पूरा यूरोप बर्बाद हो जाएगा। पोलैंड ने स्पेनिश पत्रकार को गिरफ्तार किया पोलैंड में सुरक्षा बलों ने स्पेनिश मूल के एक पत्रकार पाब्लो गोंजालेज को रूस की तरफ से जासूसी करने के शक में गिरफ्तार किया। इस मामले में उन्हें 10 साल तक जेल में रहना पड़ सकता है।पोलैंड यूक्रेन का सीमावर्ती देश है और यहां पर लाखों यूक्रेनियों ने जंग की वजह से शरण ली हुई है।
error: Content is protected !!
Join Whatsapp