रंजिश निकाली इस तरह की रुह कांप जाये, तोड़ डाली सात जनों मिलकर टांगे - Khulasa Online

रंजिश निकाली इस तरह की रुह कांप जाये, तोड़ डाली सात जनों मिलकर टांगे

श्रीगंगानगर। पुरानी रंजिश को लेकर ग्राम पंचायत छह डीडी में युवक पर पांच-सात युवकों ने घात लगाकर कातिलाना हमला कर उसके दोनों पैर तोड़ दिए। मारपीट में घायल युवक गौरीशंकर पुत्र सुंदरलाल कुम्हार निवासी गांव 9 डीडी को कस्बे के सरकारी अस्पताल लाया गया, जहां से प्राथमिक उपचार के बाद श्रीगंगानगर रेफर कर दिया। यहां उसे निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने घायल के पर्चा बयान के आधार पर पांच नामजद तथा दो-तीन अन्य के खिलाफ जानलेवा हमला करने के आरोप केस दर्ज किया है। वारदात के समय युवक पुलिस थाना से घर लौट रहा था। हमले में घायल युवक को घड़साना पुलिस ने शांति भंग के अंदेशे में गिरफ्तार कर शांति बनाए रखने के लिए पाबंद किया था। जांच अधिकारी एएसआई कमल गोदारा ने बताया कि गौरीशंकर पुत्र सुंदरलाल कुम्हार निवासी गांव 9 डीडी ने अस्पताल में पर्चा बयान में बताया कि गुरुवार रात वह नई मंडी घड़साना से अपने घर गांव 9 डीडी जा रहा था। रास्ते में गांव 6 डीडी से 9 डीडी की ओर मुड़ते ही वहां पहले से घात लगाकर बैठे रफीक खान, सदीक, असलम खां, नसीर खान व ओमी नायक सभी निवासी चक 9 डीडी तथा दो-तीन अन्य ने उसका रास्ता रोककर लोहे की रॉड व लाठियों से हमला कर दिया। आरोप है कि हमलावरों ने लोहे की रॉड से आगे नुकीले कील लगा रखी थी। ताबड़तोड़ हमला कर युवक को मरणासन्न हालत में छोड़ कर हमलावर फरार हो गए। कातिलाना हमले में परिवादी के दोनों टांगों में कई जगह फ्रेक्चर हो गए। एफआईआर में युवक ने बताया कि हमलावरों ने उसे मरा समझ कर घटनास्थल से फरार हो गए। इस बीच वहां से गुजर रहे एक टेंपो चालक ने युवक को लहूलुहान हालत में देखा तो उसे घड़साना के सरकारी अस्पताल पहुंचाया। अस्पताल से ही घायल के परिजनों एवं पुलिस को सूचना दी। मामले में पुलिस ने उक्त पांच नामजद तथा दो तीन अन्य अन्य के खिलाफ आईपीसी 308 के तहत मामला दर्ज किया है। जांच अधिकारी ने बताया कि घायल गौरीशंकर तथा हमलावरों के बीच पुरानी रंजिश चल रही थी। इसी के चलते गत दिनों झगड़ा हुआ था। झगड़े को लेकर पुलिस ने गौरीशंकर को शांतिभंग के आरोप में गिरफ्तार कर गुरुवार को ही पाबंद कर छोड़ा था। युवक घड़साना से अपने घर गांव 9 डीडी जा रहा था। रास्ते गांव 6 डीडी से 9 डीडी मोड़ पर उस पर हमला हुआ।
error: Content is protected !!
Join Whatsapp