रीट परीक्षा: गड़बड़ी पर अधिकारी-कर्मचारी होंगे बर्खास्त, कलेक्टर भी नहीं ले जा सकेंगे मोबाइल - Khulasa Online

रीट परीक्षा: गड़बड़ी पर अधिकारी-कर्मचारी होंगे बर्खास्त, कलेक्टर भी नहीं ले जा सकेंगे मोबाइल

जयपुर। राजस्थान में रविवार को होने वाली सबसे बड़ी रीट को लेकर तैयारियां शुरू हो चुकी हैं। गुरुवार को हुई बैठक में सीएम अशोक गहलोत ने निर्देश जारी किए हैं। अब तक क्रश्वश्वञ्ज अभ्यर्थियों के लिए रोडवेज बसों में फ्री यात्रा की सुविधा थी। अब निजी व लोक परिवहन की बसों में भी नि:शुल्क यात्रा सुविधा देने का फैसला लिया गया है। पेपर लीक और नकल जैसे प्रकरण को रोकने के लिए भी सख्त कदम उठाए गए हैं। यदि किसी भी सरकारी अधिकारी या कर्मचारी की मिलीभगत मिलती है तो उसे बर्खास्त किया जाएगा। इसके अलावा प्राइवेट कर्मचारी या इंस्टीट्यूट का भी पेपर आउट जैसे मामले में नाम सामने आता है तो संस्थान की मान्यता रद्द कर दी जाएगी। शिक्षा विभाग की ओर से दिए इन प्रस्तावों को सीएम ने मंजूर भी कर लिया है। सीएम के दिए निर्देश मुख्यमंत्री निवास पर रीट की तैयारियों को लेकर दोपहर में हुई बैठक में गहलोत ने परिवहन विभाग को निर्देश दिए हैं कि रीट देने वाले किसी भी स्टूडेंट से किसी भी तरह की बस में किराया नहीं वसूला जाए। रोडवेज के अलावा निजी और लोक परिवहन बस भी सरकार अधिग्रहित करेगी। हालांकि अभी यह तय नहीं हुआ है कि कितनी बसें अधिग्रहित की जाएंगी। यह तय हो चुका है कि अभ्यर्थी फ्री में यात्रा कर सकेंगे। इसके लिए बस में अपना आईडी कार्ड और एडमिट कार्ड साथ लेकर चलना होगा। एग्जाम सेंटर तक वीडियोग्राफी पेपर लीक जैसे प्रकरण को रोकने के लिए भी सख्त कदम उठाने के निर्देश दिए गए हैं। एग्जाम पेपर सेंटर तक ले जाने के दौरान पूरे रास्ते की वीडियोग्राफी होगी। इसके अलावा सेंटर में मोबाइल पूरी तरह से प्रतिबंधित रहेगा। यदि कलेक्टर या फिर अन्य अधिकारी निरीक्षण करने भी जाते हैं तो वे भी सेंटर में मोबाइल नहीं ले जा सकेंगे। अतिरिक्त मुख्य सचिव ने बताया कि अब तक 11 ट्रेन चलाने की स्पेशल परमिशन रेलवे से मिल चुकी है। इनके अलावा ट्रेनों की संख्या बढ़ाने के लिए रेलवे से डिमांड की गई है। बैठक में मुख्य सचिव और मंत्रियों के अलावा परिवहन विभाग, गृह और पुलिस विभाग, शिक्षा विभाग सहित संबंधित विभागों के आला अधिकारी मौजूद रहे। परीक्षा केन्द्र में गड़बड़ी मिली तो मान्यता होगी रद्द परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने बताया कि परीक्षा केन्द्र पर गड़बड़ी पाई गई, तो उसकी मान्यता रद्द की जाएगी। भविष्य में वहां किसी भी तरह की परीक्षा नहीं करवाई जाएगी। साथ ही, जो गिरोह रीट अभ्यर्थियों के परिजनों को परीक्षा में पास करवाने या पेपर आउट करवाने की बात कहकर ठगने की कोशिश करेंगे, उनसे पुलिस सख्ती से निपटेगी।
error: Content is protected !!
Join Whatsapp