31 हजार टीचर्स की भर्ती जनवरी में

जयपुर। राजस्थान में तृतीय श्रेणी के 31 हजार शिक्षकों की भर्ती प्रक्रिया जनवरी में शुरू होगी। इसमें लेवल-1 में 16 हजार और लेवल-2 में 15 हजार पदों पर शिक्षकों की भर्ती की जाएगी। शिक्षा मंत्री बीडी कल्ला ने बताया की पदों के क्लासिफिकेशन का काम अंतिम चरण में है। शिक्षा विभाग जनवरी में भर्ती की विज्ञप्ति जारी कर देगा। ऐसे में नए साल में सरकारी स्कूलों में शिक्षकों की कमी नहीं रहेगी। शिक्षा मंत्री ने कहा कि 33 जिलों में रिक्त पदों के हिसाब से 31 हजार पदों पर भर्ती निकाली जाएगी। भर्ती टीएसपी (ट्राइबर सब प्लान) और नॉन टीएसपी एरिया के आधार पर निकाली जाएगी, जिसमें लेवल-वन और लेवल-टू के अलग-अलग पद होंगे। अध्यापक पात्रता परीक्षा (क्रश्वश्वञ्ज) भर्ती परीक्षा में चयनित होने वाले अभ्यर्थियों से जिले की चॉइस और सब्जेक्ट पहले ही भराए जाएंगे।ताकि पद खाली नहीं रहे। इसके बाद मेरिट में आने वाले अभ्यर्थियों को शिक्षा निदेशालय की ओर से चॉइस के मुताबिक जिला अलॉट किया जाएगा। इसके साथ ही जिला स्तर पर काउंसलिंग के जरिए सिलेक्टेड अभ्यर्थियों को स्कूलों में पोस्टिंग मिलेगी। आवेदन के लिए अभ्यर्थियों को करीब एक महीने का समय दिया जाएगा। लेवल-वन के लिए सिर्फ डीएलएड योग्यताधारी ही पात्र होंगे, जबकि लेवल-टू के लिए बीएड योग्यताधारी आवेदन कर सकेंगे। रीट पात्रता के नियम रीट भर्ती परीक्षा के अंकों का प्रतिशत रहेगा भर्ती के लिए आवेदन का आधार सामान्य / अनारक्षित - 60 अंक (टीएसपी और नॉन टीएसपी) अनुसूचित जनजाति (स्ञ्ज) - 55 (नॉन टीएसपी), 36 (टीएसपी) अनुसूचित जाति (स्ष्ट), ओबीसी, एमबीसी और आर्थिक कमजोर वर्ग - 55 अंक (नॉन टीएसपी और टीएसपी) समस्त श्रेणी की विधवा और परित्यक्ता महिलाएं व भूतपूर्व सैनिक - 50 अंक (टीएसपी और नॉन टीएसपी) दिव्यांग - 40 अंक (टीएसपी और नॉन टीएसपी) सहरिया जनजाति - 36 अंक (टीएसपी और नॉन टीएसपी) यह रहेगा चयन का आधार बीकानेर माध्यमिक शिक्षा निदेशालय पात्र परीक्षार्थियों के एकेडमिक इंडेक्स से 10 फीसदी माक्र्स जोड़ेगा। इसके बाद फाइनल मेरिट लिस्ट बनेगी। इसके आधार पर ही सरकार नियुक्तियां देगी। फाइनल मेरिट में 90:10 का फॉर्मूला लगाया जाएगा। यानी 90 फीसदी माक्र्स रीट से लिए जाएंगे, जबकि 10 फीसदी एकेडमिक डिग्री से लिए जाएंगे। लेवल फस्र्ट: रीट के नंबरों के हिसाब से सीधी मेरिट बनेगी। यानी 150 अंकों में से जितने अंक आए है। अन्य कोई नंबर नहीं जुड़ेंगे। लेवल सेकंड: रीट के 150 नंबर का 90 फीसदी वेटेज और 10 फीसदी स्नातक के अंक मिलाकर मेरिट बनेगी। बता दें कि रीट का रिजल्ट सिर्फ 36 दिन के अंदर जारी कर दिया गया था। रीट के लिए इस बार 25 लाख से ज्यादा अभ्यर्थियों ने आवेदन किया था। इसमें से 11 लाख चार हजार 216 को पात्र घोषित किया गया है। इनमें लेवल-1 के लिए 3 लाख तीन हजार 604 और लेवल-2 के लिए 7 लाख 73 हजार 612 को पात्र घोषित किया गया है। इनमें से मेरिट के आधार पर 31 हजार शिक्षकों को नियुक्ति दी जाएगी।

error: Content is protected !!
Join Whatsapp