राजस्थान/ टीचर ने बच्चे को इतना पीटा कि 3 डंडे तोड़े : अंगुली टूट गई, पैरों पर पिटाई के निशान - Khulasa Online

राजस्थान/ टीचर ने बच्चे को इतना पीटा कि 3 डंडे तोड़े : अंगुली टूट गई, पैरों पर पिटाई के निशान

झुंझनूं के बुहाना थाना इलाके के कुहाडवास गांव के सरकारी स्कूल के टीचर ने बच्चे को इतना पीटा कि तीन डंडे तोड़ दिए। मारपीट के बाद बच्चे को सांस लेने में दिक्कत होने लगी। परिजनों का आरोप है कि जब वे इसकी शिकायत करने स्कूल पहुंचे तो पिटाई करने वाले टीचर सूरजभान ने गाली-गलौज कर जान से मारने की धमकी दी है। घटना 27 अक्टूबर की बताई जा रही है। वहीं परिजनों की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

जानकारी के अनुसार 9वीं कक्षा के छात्र हिमांशु मेघवाल ने बताया कि उसने स्कूल के 10वीं में पढ़ने वाले स्टूडेंट की गाली और मारपीट की शिकायत पीटीआई सूरजभान से की थी। शिकायत करते ही पीटीआई सूरजभान आगबबूला हो गया और बच्चे को गाली देकर कमरे में बंद किया और डंडे से बुरी तरह से पीटा। पीटीआई सूरजभान ने छात्र हिमांशु को लात घूंसे व डंडों से पीटकर जख्मी कर दिया। बच्चे को डंडे से इतना मारा कि तीन डंडे टूट गए। पिटाई में बच्चे की अंगुली में भी फ्रैक्चर हो गया। बच्चा जब घर पहुंचा तो उसे सांस लेने में दिक्कत होने लगी। परिजनों के पूछने पर घटनाक्रम सामने आया। बच्चे के शरीर पर पिटाई के निशान भी थे। उसे अस्पताल ले जाया गया।

परिजनों का आरोप, पीटीआई ने जान से मारने की धमकी भी दी बच्चे के परिजनों ने आरोप लगाया है कि पीटीआई सूरजभान से पिटाई के बारे में पूछा तो स्कूल प्रिंसिपल के सामने ही गाली देने लगा। पुलिस को दी एफआईआर में परिजनों ने बच्चे की मां के साथ भी मारपीट करने और दोनों को जान से मारने की धमकी दी। इस मामले को लेकर जब पीटीआई से बातचीत की तो उसका कहना था कि जो करना है कर लो, मैं कानून के हिसाब से चलूंगा।

पीटीआई सूरजभान पहले भी कर चुका है बच्चे से मारपीट पीटीआई की शिकायत लेकर स्कूल पहुंचे परिजनों के सामने आग बबूला पीटीआई सूरजभान ने परिजनों को स्कूल से जाने के लिए कहा और बच्चे की टीसी काटने की धमकी दी। परिजनों ने बताया कि आरोपी पीटीआई सूरजभान बच्चे से पहले भी दो बार मारपीट कर चुका है। वहीं घटना के बाद से ही ग्रामीणों में आक्रोश है। आपको बता दें कि कुछ दिन पहले ही चिड़ावा के एमआरएस कृष्णा परनामी स्कूल में भी एक बच्चे के साथ मारपीट की गई थी। इसका भी मामला चिड़ावा थाने में दर्ज हुआ था। आरोपी टीचर अनिल दाधीच को पुलिस ने गिरफ्तार किया था। घटना के बाद बाल संरक्षण आयोग ने मामले में संज्ञान लेते हुए जांच के आदेश दिए थे।

error: Content is protected !!
Join Whatsapp