नकल माफिया तुलसाराम को पुलिस ने किया राउडअप - Khulasa Online

नकल माफिया तुलसाराम को पुलिस ने किया राउडअप

खुलासा न्यूज,बीकानेर। दीपावली पर बीकानेर पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है। अनेक परीक्षाओं में पेपर आऊट करने में अहम भूमिका निभाने वाले नकल माफिया तुलसाराम कालेर को पुलिस ने राउंडअप किया है। एसपी योगेश यादव के निर्देशन में डीएसटी की टीम को यह बड़ी सफलता मिली है। हैड कॉन्स्टेबल दीपक यादव,कानदान की भूमिका इसमें अहम बताई जा रही है। उधर एसपी यादव ने कहा कि कुछ ओर लोग भी पुलिस की राडार पर है। पुलिस अधीक्षक यादव और अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शैलेंद्र सिंह इंदौरिया पिछले कई दिनों से तुलसाराम के पीछे लगे थे। पुलिस के पास पुख्ता सूचना थी कि वो दीपावली पर इधर आ सकता है। बताया जा रहा है कि लूणकरनसर के आसपास कल रात को ही तुलसाराम को गिरफ्तार करने की कार्रवाई हो गई थी। अब तक पुलिस इस मामले में कोई स्पष्ट जानकारी नहीं दे रही है लेकिन पुलिस अधीक्षक ने स्पष्ट कर दिया कि तुलसाराम अब उनकी हिरासत में है। उसे आज या कल मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश किया जा सकता है। कौन है तुलसाराम कालेर चाणक्य कोचिंग इंस्टीट्यूट का संचालक तुलसाराम कालेर चूरू जिले के रामपुर देवानी का रहने वाला है। वर्ष 1991 में पुलिस में भर्ती हुआ था। 1994 में हवाला के एक मामले में जब्त राशि अपने पास रखने के आरोप में बर्खास्त कर दिया गया। उसके बाद 2007 में उसने आरएएस का एग्जाम दिया, जिसमें 19वीं पोजीशन आई। वर्ष 2014 में अपने एक रिश्तेदार की जगह एसआई की परीक्षा देते हुए पकड़ा गया था। कालेर की पत्नी आरपीएस है। उसकी पोस्टिंग अजमेर में है। बीकानेर के पवनपुरी क्षेत्र में उसका निवास है। इंस्टीट्यूट फिलहाल बंद है। तुलसाराम ने एक पारी पेपर के अभ्यर्थियों से पांच से सात लाख रुपए के बीच में सौदा तय किया था। पता चला है कि तुलसाराम ने प्रदेशभर में 25 से अधिक लोगों को विशेष डिवाइस लगी चप्पलें उपलब्ध कराई थी। भतीजा फरार, बहू गिरफ्तार तुलसाराम का भतीजा पौरव कालेर भी नकल मामले में वांछित है। पटवारी परीक्षा के दौरान उसके घर पर छापा मारकर पुलिस ने बड़ी संख्या ब्ल्यू ट्रूथ बरामद किया था। इसके साथ ही उसकी पत्नी भावना को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। उस पर नकल में सहयोग करने का आरोप ह

error: Content is protected !!
Join Whatsapp