इन पदाधिकारियों पर कार्यवाही से कतरा रही है पार्टियां - Khulasa Online

इन पदाधिकारियों पर कार्यवाही से कतरा रही है पार्टियां

बीकानेर। मतदान की तिथि के नजदीक आने के साथ ही चुनाव लड़ रहे प्रत्याशी अपनी जीत के लिये एड़ी चोटी का जोर लगा रहे है। लेकिन दोनों ही प्रमुख राजनीतिक दलों के लिये उसके अपने ही बेगाने बनकर जीत की लय और ताल बिगाड़ रहे है। मंजर ये है कि दोनों ही दलों में पार्टी के जिम्मेदार पदों पर बैठे पदाधिकारी ही अपनों के दुश्मन बने जीत में रोड़ा अटका रहे है। सबसे ज्यादा सिरदर्दी भाजपा के लिये है। जहां कई वार्डों में निर्दलिय प्रत्याशी के रूप में ताल ठोक चुके पार्टी के निवर्तमान पार्षद और अग्रिम संगठन के पदाधिकारी पार्टी के लिये जी का जंजाल बने हुए है। कुछ ऐसे ही हालात सतारूढ़ कांग्रेस के भी है। मजे की बात की दोनों ही पार्टियां इन पदाधिक ारियों पर कार्यवाही करने से कतरा रही है। ये बने है पार्टी के लिये सिरदर्द जानकारी में रहे कि कांग्रेस के ब्लॉक अध्यक्ष रमजान कच्छावा वार्ड 79 में कांग्रेस के अधिकृत प्रत्याशी के लिये मुसीबत बने हुए है तो वार्ड 59 में कांग्रेस के यूथ कांग्रेस के उपाध्यक्ष नवनीत आचार्य,यूथ कांग्रेस के राष्ट्रीय पदाधिकारी संजय आचार्य की भाभी सुधा आचार्य चुनावी मैदान में पार्टी प्रत्याशी के लिये परेशानी पैदा किये हुए है। वहीं वार्ड 63 में भाजपा किसान मोर्चा के जिलाध्यक्ष किशन चौधरी ने अपने ही अधिकृत प्रत्याशी के सामने ताल ठोककर जीत का गणित बिगाड़ रहे है। ये पार्षद व पूर्व पार्षद भी बने है रोड़े यहीं नहीें कांग्रेस और भाजपा के पार्षद व पूर्व पार्षद भी अपनों के लिये दुश्मन बन गए है। वार्ड नं तो वार्ड 7 में तरूण गहलोत,हुलास भाजपा के लिये,वार्ड 8 में भाजपा के पूर्व पार्षद जामनलाल गजरा,वार्ड 9 में भाजपा के पूर्व पार्षद ताराचंद किलानियां,वार्ड 19 में कांग्रेस के भागीरथ सियाग,27 में जयश्री सेठिया,29 में भाजपा के पार्षद प्रतिनिधि श्रवण चौधरी,30 में कांग्रेस की पूर्व पार्षद गुड्डी देवी,32 में भाजपा के पूर्व पार्षद भगवती प्रसाद गौड,33 में कांग्रेस के पूर्व पार्षद मनोज नायक,वार्ड 49,50,51 में भाजपा के पूर्व पार्षद भावना गहलोत,वार्ड 52 में कांग्रेस के पूर्व पार्षद शहाबूद्दीन भुट्टो,56 में कांग्रेस के पूर्व पार्षद भंवरलाल साध,63 से भाजपा के पूर्व पार्षद ऋषिराज रामावत,72 में कांग्रेस के पूर्व पार्षद रामेश्वर लाल सुथार तथा शामिल है। जो अपनों के लिये परेशानी का सबब बने हुए है।
error: Content is protected !!
Join Whatsapp 26