लूडो से ऑनलाइन सट्टेबाजी का खेल:टेलीग्राम एप पर वंदना नाम से ग्रुप बनाकर खेल रहे सट्‌टा

सरकार की पाबंदी के चलते जुए व सट्टे पर नियंत्रण हुआ तो अब लोगों ने सभी के सामने खुले मैदान में एक खेल निकाला जिसे मोबाइल पर खेला जाता है। इस खेल को ऑनलाइन लूडो के नाम से जाना जाता है। इसे मोबाइल पर खेला जाता है। इसमें लोग लाखों रुपये के ऑनलाइन दांव लगाते हैं।

इस खेल के मास्टर माइंड इसके जरिये मोटी राशि कमाने में लगे हैं। ऐसा ही एक मामला जिले के परबतसर शहर में भी सामने आया है जहां कुछ मास्टरमाइंड सटोरिये सोशल मीडिया एप टेलीग्राम पर ग्रुप बनाकर ये ऑनलाइन सट्टेबाजी चला रहे हैं। इसके लिए बाकायदा एक कार और बाइक के जरिये ये थोड़ी-थोड़ी देर बाद अपनी लोकेशन भी बदलते रहते हैं। इन सटोरियों ने अपनी पहचान छिपाने के लिए लड़कियों के नाम से ग्रुप पर अपनी आईडी बना रखी है।

जितेंद्र बावरी नाम के युवक ने PHQ (पुलिस हेड क्वार्टर) हेल्प डेस्क को शिकायत ट्वीट कर परबतसर में चल रहे इस ऑनलाइन अवैध कारोबार का खुलासा किया है। इसके बाद पुलिस भी हरकत में आई है और अब पूरे मामले की जांच-पड़ताल शुरू कर दी गई है। बिखरनियां के रहने वाले जितेंद्र बावरी ने PHQ के ट्विटर हैंडल राजस्थान पुलिस को ट्वीट टैग करते हुए शिकायत में बताया था कि परबतसर शहर में दो युवक सोशल मीडिया एप टेलीग्राम पर वन्दना नाम से लूडो ग्रुप बनाकर ऑनलाइन लूडो गेम के जरिये सट्टेबाजी का कारोबार चला रहे हैं।

इस सट्टेबाजी ग्रुप में 1200 से अधिक मेंबर हैं जिन्हें ऑनलाइन पेमेंट जमा कराने के बाद मेंबरशिप दी गई है। ग्रुप में मेंबर जितनी रकम दांव पर लगाकर गेम खेलना चाहता है उतने का सट्टा लगाकर दो मेम्बर्स के बीच गेम खिलाया जाता है। जितेंद्र ने अपनी शिकायत में भी बताया है कि ये बदमाश परबतसर शहर की हनुमान बाग़ कॉलोनी में रहते हैं और ऑनलाइन गैम्बलिंग के दौरान कार और बाइक से अपनी जगह भी बदलते रहते हैं। इस मामले की युवक ने पादूकलां पुलिस थाने में शिकायत दी तो मामला दर्ज नहीं किया गया।

error: Content is protected !!
Join Whatsapp