गणपति प्लाजा के लॉकर से निकला एक किलो गोल्ड, करोड़ों का कैश भी मिला, नोट गिनने के लिए मंगवानी पड़ीं मशीनें - Khulasa Online गणपति प्लाजा के लॉकर से निकला एक किलो गोल्ड, करोड़ों का कैश भी मिला, नोट गिनने के लिए मंगवानी पड़ीं मशीनें - Khulasa Online

गणपति प्लाजा के लॉकर से निकला एक किलो गोल्ड, करोड़ों का कैश भी मिला, नोट गिनने के लिए मंगवानी पड़ीं मशीनें

खुलासा न्यूज नेटवर्क। जयपुर में राज्यसभा सांसद किरोड़ी लाल मीणा के आरोपों के बाद गणपति प्लाजा के लॉकरों की जांच जारी है। इनकम टैक्स ने मंगलवार को 3 लॉकर खोले, जिसमें सवा करोड़ रुपए नकदी और 1 किलो सोना मिला है। इनकम टैक्स के अधिकारियों को कार्तिक कूलवाल के लॉकर से 1 किलो सोना मिला है, जबकि इदरीश हसन के लॉकर से एक करोड़ से ज्यादा की नकदी मिली है। कार्तिक कूलवाल और इदरीश हसन कौन हैं, इनके बारे में अभी जानकारी नहीं मिली है।

दरअसल, राज्यसभा सांसद डॉ. मीणा ने 13 अक्टूबर को दावा किया था कि गणपति प्लाजा स्थित 100 लॉकर्स में 50 किलो गोल्ड और करीब 500 करोड़ का काला धन है। यह पैसा कई घोटालों से जुड़ा हुआ है। इसके बाद इनकम टैक्स के साथ ही ईडी अधिकारी भी गणपति प्लाजा पहुंचे। ईडी और इनकम टैक्स के अधिकारियों ने लॉकरों के दस्तावेज की जांच की। जिन-जिन लोगों के लॉकर हैं, उनकी डिटेल निकाली गई। लॉकर मालिकों को बुलाकर लॉकर की जांच की जा रही है। एमआई रोड स्थित गणपति प्लाजा के अंडरग्राउंड में बने लॉकर्स रूम में कुल 1100 लॉकर हैं। इनमें से 540 लॉकर एक्टिव ही नहीं हैं। कुछ लॉकर्स ऐसे भी मिले, जिनके मालिक का नाम और पता मिल नहीं रहा है। यानी जिस नाम से लॉकर खोला गया, वह नाम अस्तित्व में नहीं हैं।

जानकारी अनुसार, कुछ लॉकर ऐसे भी मिले हैं। इनके मालिक का नाम और पता मिल ही नहीं रहे हैं। जिस नाम से लॉकर खोला गया, वह नाम अस्तित्व में नहीं है। जो पता लिखा रखा है, वहां पर व्यक्ति रहता ही नहीं है। इनकम टैक्स को ऐसे ही लॉकर की जांच करने में समय लग रहा है। इनकम टैक्स के अधिकारियों का कहना है कि जब तक सारे लॉकर ऑनर आकर अपना लॉकर नहीं खोल देते जांच जारी रहेगी। सोमवार को भी 7 लोगों के लॉकर इनकम टैक्स ने खोले। हालांकि लॉकर किसके थे, इसकी जानकारी साझा नहीं की गई।

 

राजस्थान को लूटने वाले बेनकाब होंगे

 

लॉकर से सोना और नकदी मिलने के बाद किरोड़ी लाल मीणा ने कहा- मैंने दावा किया था कि गणपति प्लाजा के लॉकर्स में करोड़ों का कालाधन व सोना रखा है। आज ये करोड़ों की नकदी और सोना उगल रहे हैं। ष्ठह्रढ्ढञ्ज के अधिकारी सीपी सिंह ने यहां अकूत संपत्ति रखी थी। मेरे मामला उठाने के बाद लॉकर्स खाली कर दिए। उन्होंने बेनामी लॉकर्स में कालाधन रख दिया है। मेरी सरकार से मांग है कि गणपति प्लाजा के सभी बेनामी लॉकर्स की गहनता से जांच की जाए। यदि ऐसा किया गया तो भ्रष्टाचार कर इकट्?ठा किया गया करोड़ों का कालाधन बरामद होगा और वो लोग बेनकाब होंगे, जिन्होंने राजस्थान को लूटा है।

error: Content is protected !!
Join Whatsapp 26