अब बिजली के मीटर भी होंगे स्मार्ट: सीधे डिस्कॉम के पास पहुंचेगी बिजली खपत की रीडिंग

जोधपुर। जोधपुर शहर में अब बिजली के स्मार्ट मीटर लगने शुरू हो चुके है। शहर के एक तिहाई हिस्से में करीब एक लाख घरों में ऐसे मीटर लगाए जाएंगे। अगले चरण में शेष घरों में स्मार्ट मीटर लगेंगे। केन्द्र सरकार ने देश के सभी घरों में वर्ष 2025 तक ऐसे मीटर लगाने को बोल रखा है। इस मीटर के जरिये डिस्कॉम को अब बिजली खपत की रीडिंग लेने घर-घर जाने से निजात मिल जाएगी। वहीं अगले कुछ दिन में जारी होने वाले एक मोबाइल एप के जरिये लोग भी अपने घर की कुल बिजली खपत की पूरी जानकारी हासिल कर पाएंगे। इसके अगले चरण में इसमें प्रीपेड व्यवस्था को भी लागू करने की योजना है। मीटर कैसे काम करता है इसमें एक ऐसी डिवाइस लगी होती है, जो मोबाइल टावर्स से बिजली कंपनियों में लगने वाले रिसीवर तक सिग्नल पहुंचाता है, जिससे बिजली कंपनियां अपने दफ्तर से मीटर की रीडिंग और निगरानी कर सकती हैं। ऐसा होने पर डिस्कॉम को मीटर रीडिंग के लिए अपने कर्मचारी भेजने की आवश्यकता नहीं रहेगी। साथ ही रीडिंग लिखने में होने वाली गफलत से भी निजात मिल जाएगी। वहीं मीटर के साथ किसी प्रकार की छोड़छाड़ की जानकारी भी डिस्कॉम को हाथों हाथ मिल सकेगी। एक लाख घरों में लगेंगे स्मार्ट मीटर जोधपुर डिस्कॉम के स्मार्ट मीटर लगाने के नोडल ऑफिसर ओपी सुथार ने बताया कि जोधपुर के तीन में से एक डिवीजन में स्मार्ट मीटर लगाने का फैसला किया गया था। इसके तहत एक लाख घरों या दुकानों तक इन्हें लगाने का लक्ष्य है। अब तक 35 हजार घरों में ऐसे मीटर लगाए जा चुके है। अगले कुछ दिन में एक मोबाइल एप जारी किया जाएगा। इस एप के जरिये लोग अपने मोबाइल पर घर की बिजली खपत पर नजर रख सकेंगे। वे देख सकेंगे कि किस समय अधिक खपत होती है। ऐसा करने से वे बिजली की बचत पर पहले की अपेक्षा अधिक फोकस कर सकेंगे।
error: Content is protected !!
Join Whatsapp