बीकानेर/ प्रशासन गांव के संग अभियान के लिए नोडल अधिकारी नियुक्त - Khulasa Online

बीकानेर/ प्रशासन गांव के संग अभियान के लिए नोडल अधिकारी नियुक्त

बीकानेर । जिला कलक्टर नमित मेहता ने प्रशासन गांवों के संग अभियान के प्रभावी पर्यवेक्षण और राज्य सरकार की योजनाओं की क्रियान्विति के लिए उपखण्डवार 9 नोडल अधिकारी नियुक्त किए है। मेहता ने उपायुक्त उपनिवेशन विभाग के.एल. सोनगरा को कोलायत का, अतिरिक्त जिला कलक्टर (प्रशासन) बी.आर.धोजक को पूगल का, अतिरिक्त निदेशक माध्यमिक शिक्षा रचना भाटिया को बीकानेर का, अतिरिक्त मुख्यकार्यकारी अधिकारी नरेन्द्र सिंह चौधरी को श्रीडंूगरगढ़ का, अतिरिक्त आयुक्त (प्रशासन) आबकारी अजीत सिंह राजावत को लूणकरनसर का, उपमहानिरीक्षक पंजीयन एवं मुद्रांक ऋषिबाला श्रीमाली को छत्तरगढ़ का, मुख्यकार्यकारी अधिकारी जिला परिषद ओम प्रकाश को नोखा का, उपनिदेशक महिला एवं बाल विकास विभाग शारदा चौधरी को बज्जू का और अतिरिक्त आयुक्त उपनिवेशन अलका बिश्नोई को खाजूवाला उपखण्ड का नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। प्रशासन गांव के संग अभियान में गांव के लोगों के ज्यादा से ज्यादा कार्य हों-मेहता प्रशासन गांवों के संग अभियान 2 अक्टूबर से बीकानेर । जिला कलक्टर नमित मेहता ने सोमवार को कलेक्ट्रेट सभागार में  प्रशासन गांवों के संग अभियान की पूर्व तैयारियों के बारे में जानकारी ली और आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। मेहता ने प्रशासन गांवों के ंसग अभियान जो कि 2 अक्टूबर से प्रारंभ होगा, उसे सफलता पूर्वक संचालन के लिए नियुक्त नोडल अधिकारियों की बैठक ली और आज से शुरू हुए ग्राम सभाओं के बारे में जानकारी दी और निर्देश दिए कि ग्राम सभाओं में ग्रामीणों की समस्याओं को चिन्हित करवाएं। जिला कलक्टर ने निर्देश दिए कि प्रशासन गांवों के संग अभियान के तहत संबंधित नोडल अधिकारी विद्युत, पेयजल, सड़क अन्य विभागों से संबंधित विभिन्न समस्याओं के त्वरित निराकरण, विभिन्न स्तरों पर होने वाली जनसुनवाई, वैक्सीनेशन, कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर के संबंध में तैयारियों, चिरंजीवी योजना के क्रियान्वयन, राज्य सरकार की विभिन्न योजनाओं की प्रभावी क्रियान्विति सुनिश्चित करवाएंगे। मेहता ने कहा कि नोडल अधिकारी अपने-अपने प्रभार के उपखण्ड में समस्त राजकीय योजनाओं का निरन्तर पर्यवेक्षण करेंगे तथा संबंधित विभागों के अधिकारियों से समन्वय रखते हुए उपखण्ड में आमजन द्वारा प्रस्तुत परिवेदनाओं का परीक्षण करते हुए उनका निस्तारण सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने कहा कि सभी नोडल अधिकारी अपने-अपने क्षेत्र के भ्रमण के दौरान चिकित्सा संस्थाएं, आंगनबाड़ी केन्द्र, पानी-बिजली की व्यवस्था, ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज के कार्यों का आवश्यक रूप से निरीक्षण करेंगे। साथ ही अभियान के दौरान आयोजित शिविरों का समय-समय पर प्रभावी निरीक्षण करेंगे। उन्होंने सभी नोडल अधिकारियों को निर्देश दिए कि प्रशासन गांवों के संग अभियान के शिविर का सप्ताह में एक दिन आवश्यक रूप से निरीक्षण करते हुए रिपोर्ट प्रस्तुत करेंगे। बैठक में अतिरिक्त जिला कलक्टर (प्रशासन) बी.आर. धोजक, मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद, उपायुक्त उपनिवेशन विभाग के.एल. सोनगरा, अतिरिक्त निदेशक माध्यमिक शिक्षा रचना भाटिया, अतिरिक्त मुख्यकार्यकारी अधिकारी नरेन्द्र सिंह चौधरी, उपमहानिरीक्षक पंजीयन एवं मुद्रांक ऋषिबाला श्रीमाली, उपनिदेशक महिला एवं बाल विकास विभाग शारदा चौधरी, अतिरिक्त आयुक्त उपनिवेशन अलका बिश्नोई उपस्थित थे।
error: Content is protected !!
Join Whatsapp