नालन्दा स्कूल में एन.एस.एस ईकाई के तहत आज मानसिक तनाव व बचाव वार्ता आयोजित हुई - Khulasa Online

नालन्दा स्कूल में एन.एस.एस ईकाई के तहत आज मानसिक तनाव व बचाव वार्ता आयोजित हुई

बीकानेर । नालन्दा पब्लिक सीनियर सैकेण्डरी स्कूल, बीकानेर सृजन सदन में शाला की राष्ट्रीय सेवा योजना ईकाई के तत्वावधान मे मानसिक तनाव व बचाव वार्ता का आयोजन किया गया।इस महत्वपूर्ण आयोजन के लिए विशेष रूप से उदयपुर से आई मनोचिकित्सक डॉ. निशा अग्रवाल ने बच्चों से सीधा संवाद स्थापित करते हुए मानसिक तनाव-उपचार के साथ-साथ स्वस्थ एवं आनन्दमय जीवन जीने की कला के संदर्भ में बताया कि बच्चे अपनी क्षमताओं को भूले नहीं हमेशा सकारात्मक रहते हुए बी पॉजिटिव-टु पॉजिटिवज् रहते हुए नकारात्मक ऊर्जा से दूर रहे डॉ अग्रवाल ने शाला के समस्त अध्यापक-अध्यापिकाओं को व्यक्तिश: मिलकर मनोविज्ञान टिप्स दिए। शाला प्राचार्य राजेश रंगा ने बताया कि इस अवसर पर अति. जिला शिक्षा अधिकारी एवं जिला समन्वयक एन.एस.एस. सुनील बोडा ने इस कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए छात्र छात्राओं में उत्साह का संवद्र्धन करते हुए प्रेरणादायक उद्बोधन के जरिए कहा कि आप लोगों को समस्या को गंभीरता से न लेकर उसके समाधान के उपचार की ओर हमेशा सजग रहना चाहिए। साथ ही अपने जीवन के सभी क्षेत्रों के छोटे-छोटे लक्ष्यों को भी साधने के लिए सकारात्मक एवं तनाव रहित प्रयास करने चाहिए। शाला के प्राचार्य राजेश रंगा ने कहा कि बीकानेर में हमारी शाला को गत दो वर्षो से शिक्षा विभाग द्वारा एन.एस.एस. में जोडऩे के बाद शाला के छात्र-छात्राओं ने काफी रचनात्मक कार्यक्रम राष्ट्रीय सेवा योजना ईकाई द्वारा करवाए जा रहे है इसी कड़ी में आज इस महत्वपूर्ण कार्यक्रम का आयोजन भी नालन्दा पब्लिक सीनियर सैकेण्डरी स्कूल, द्वारा करवाया जाना सुखद अनुभूति है। रंगा ने इस वार्ता को विभाग द्वारा आयोजित करना एक सार्थक एवं सकारात्मक पहल बताते हुए कहा कि छात्र-छात्राएं ऐसे आयोजनों के माध्यम से मानसिक तनाव और बचाव के सरल और सुगम उपाय से लाभान्वित हुए। यह संपूर्ण कार्यक्रम राष्ट्रीय सेवा योजना के राज्य समन्वयक व उपनिदेशक (प्रशासन) दयाशंकर अरड़वातिया के निर्देशन में आहुत किया गया। कार्यक्रम में शिक्षा निर्देशालय के एन.एस.एस प्रभारी आशिष रामावत ने कहा कि आज के आपाधापी के दौर में तनाव जीवन का पर्याय बन गया है। हमें तनाव से मुक्ति पाने के लिए ईश्वरीय कृपा के साथ अपने मजबूत संकल्प एवं सकारात्मक सोच के साथ जीवन जीना होगा। तभी हमारा जीवन स्वास्थ्यवद्र्धक एवं आनन्दमय रहेगा। इस अवसर पर शाला परिवार व सभी शाला के एन.एस.एस ईकाई के स्वंयसेवकों ने अपनी सक्रिय सहभागिता निभाते हुए इस महत्वपूर्ण वार्ता से लाभान्वित हुए। कार्यक्रम का सफल संचालन शाला एन.एस.एस प्रभारी हरिनारायण आचार्य ने करते हुए विभाग द्वारा एन.एस.एस के महत्वपूर्ण आयोजनों से हमारी शाला को जोड़ा उसके लिए विभाग का साधुवाद ज्ञापित किया। कार्यक्रम में शाला के प्रतिनिधि आशिष रंगा ने सभी अतिथियों का आभार माना।

error: Content is protected !!
Join Whatsapp