मेहता साहब... बीकानेर में सिस्टम फैल, शहर में चोरी छिपे खुली रहती है दुकानें, आखिर कैसे रूकेगा संक्रमण - Khulasa Online

मेहता साहब… बीकानेर में सिस्टम फैल, शहर में चोरी छिपे खुली रहती है दुकानें, आखिर कैसे रूकेगा संक्रमण

खुलासा न्यूज, बीकानेर। राज्य सरकार की सख्ती के बावजूद बीकानेर में कोरोना गाइड लाइन्स की पालना नहीं हो रही है। जिन दुकानों को सुबह छह बजे से ग्यारह बजे के बीच खोलने की अनुमति दी गई है, वो दोपहर तक खुली रहती है। इतना ही नहीं जिन्हें अनुमति नहीं है, वो भी चोरी छिपे खुल रही है। कोरोना गाइडलाइन्स की सर्वाधिक धज्जियां कोटगेट थानाक्षेत्र में ही उड़ रही है। जहां ट्रांसपोर्ट गली, रानी बाजार, स्टेशन के आसपास, कोटगेट से केईएम रोड व फड़बाजार क्षेत्र में चोरी छिपे दुकानें खुल रही है। इतना ही नहीं बीछवाल थाना क्षेत्र से कई बसों में क्षमता से अधिक सवारियां भरकर जयपुर के रास्ते बसें बिहार जा रही हैं। इन बसों का जाना गलत नहीं है लेकिन क्षमता से अधिक सवारियां भरकर कोरोना संक्रमण फैलाया जा रहा है। प्रशासन की ओर से कुछ बसों पर कार्रवाई तो की गई लेकिन महज दो-चार हजार रुपए का जुर्माना लगा दिया। इन सवारियों को बस से उतारा नहीं गया। खुलासा स्टिंग में सामने आया कि पुलिस के नाक के नीचे शहरभर में दुकानें खुली रहती है। पुलिस वाले पॉइन्ट पर बैठे नजर आते है, लेकिन कोई कार्यवाही नहीं की जाती है। राज्य सरकार द्वारा सख्ती बरतने के आदेश जारी करने के बावजूद भी बीकानेर पुलिस सख्ती से पेश नहीं आ पा रही है। ऐसे में बीकानेर पुलिस सवालों के कटघरे में है। अगर यही सिलसिला चलता रहा तो बीकानेर में संक्रमण कैसे रूकेगा। दिनों-दिन स्थितियां बिगड़ती जा रही है, अस्पताल के बेड फूल चुके है, डॉक्टर्स ने हाथ खड़े कर दिए है, मौत का ग्राफ बढ़ता जा रहा है, इसके बावजूद भी बीकानेर पुलिस द्वारा सख्ती से पेश नहीं आ पा रही है। इसका नतीजा यह है कि बीकानेर में कोरोना की रफ्तार बढ़ती जा रही है। अब देखने वाला विषय यह है कि इस गंभीर मसले पर जिला कलक्टर नमित मेहता क्या संज्ञान लेते है ?

error: Content is protected !!
Join Whatsapp