बीकानेर के कई कर्मचारियों ने फर्जी तरीके से उठाया गेहूँ, ऐसे पकड़ में आया मामला - Khulasa Online

बीकानेर के कई कर्मचारियों ने फर्जी तरीके से उठाया गेहूँ, ऐसे पकड़ में आया मामला

खुलासा न्यूज़ बीकानेर । खाद्य सुरक्षा में चयनित गरीबों को मिलने वाले 2 रुपए प्रति किलो गेहूं को प्रदेश के 28 हजार और जिले के कई राज्य कर्मचारियों ने फर्जी तरीके से उठा लिया। जन आधार की मैपिंग से इस मामले का खुलासा हुआ। अब इन कर्मचारियों से 27 रुपए प्रति किलो की दर से राशि वसूली होगी। गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले लोगों को सरकार दो रुपए प्रति किलो की दर से गेहूं उपलब्ध करवाती है, लेकिन सरकारी कर्मचारियों ने फर्जी तरीके से अपने को चयनित करवा कर गेहूं उठा लिए। अब राशन कार्ड और जन आधार कार्ड की मैपिंग हुई तो मामला पकड़ में आया। ये कर्मचारी आरजीएचएस योजना का लाभ भी ले रहे थे। आरजीएचएस योजना में सरकारी कर्मचारियों को निशुल्क चिकित्सा की आउटडोर व इंडोर सुविधा मिलती है। ऐसे पकड़ में आया मामला : खाद्य सुरक्षा में चयनित परिवारों की जन आधार से मैपिंग हुई तो मामले का खुलासा हुआ। नियमानुसार परिवार का एक व्यक्ति यदि सरकारी नौकरी में है तो उसे खाद्य सुरक्षा का लाभ नहीं मिलेगा। इसके साथ ही एक लाख रुपए वार्षिक पेंशन प्राप्त करने वाले भी खाद्य सुरक्षा का लाभ नही ले सकते हैं। कलेक्टर ने सभी उपखंड अधिकारियों व तहसीलदारों को ऐसे लोगों के नाम हटाने को कहा।
error: Content is protected !!
Join Whatsapp