किशोर ने काम ऐसा किया कि संप्रेषण गृह में भेजा

बीकानेर। नापासर थाना क्षेत्र में 17 जून को दुल्हे को घोड़ी से उतारने की बात को लेकर हुई घटना में शामिल एक किशोर को निरुद्य किया गया है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार 17 जून को सूचना मिली थी कि गांव बेलासर में पूनमचंद की लड़की की शादी है जिसमें राजपूत समाज के व्यक्ति दुल्हे को घोड़ी पर बैठने नहीं दे रहे है। इस पर मौके पर थानाधिकारी जाब्ता लेकर मौके पर पहुंचे तो देखा मामला गंभीर है इस पर उ'चअधिकारियों को अवगत करवाकर अतिरिक्ति जाब्ता मांगवाया गया। पुलिस के पहुंचने पर आरोपीगणों ने थानाधिकारी व जाब्ते पर पत्थर फेंककर राजकार्य एवं कर्तव्य में बाधा उत्पन्न किया। पुलिस ने इनके खिलाफ मामला किया गया। जिसमें एक किशोर का नाम सामने आ रहा था सउनि बीरबल सिंह ने अनुसंधान करते हुए किशोर को इस मामले में होना पाया गया तो सोमवार को उसको धारा &&2, &5&, &&6 आईपीसी के तहत निरुद्ध किया गया। जिसे सोमवार को किशोर न्यास बोर्ड मे पेश किया गया जहां उसे सम्प्रेषण गृह भिजवाया गया।
error: Content is protected !!