किन्नर ने मनमानी रकम नहीं मिलने पर नवजात को बनाया बंधक, भूख से हुई मौत

कोलकाता। बंगाल के मालदा जिले में मानवता को शर्मसार करने वाली घटना सामने आई है। नवजात के जन्म के बाद खुशियां मनाने आये किन्नर ने मनमाना पैसे नहीं मिलने पर ढोल बजाकर नवजात को कथित रूप से करीब तीन घंटे तक उसे मां से दूर रखा। अंत में भूख से जूझते हुए नवजात की मौत हो गई। मालदा के मानिकचक थाने के बंगालग्राम में गुरुवार सुबह यह अमानवीय घटना घटी है। नवजात की मौत के बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने आरोपित किन्नर को पकड़ लिया और थाने को सूचना दी। इसके बाद पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है। इस घटना को लेकर इलाके में किन्नरों के खिलाफ बेहद आक्रोश है। मिली सूचना के अनुसार, मालदा के बंगालग्राम निवासी मम्पी मांजी ने 29 अक्टूबर को मालदा मेडिकल कालेज अस्पताल में जुड़वां बेटियों को जन्म दिया था। बताया जा रहा है कि गुरुवार सुबह स्थानीय किन्नर उनके घर संतान के जन्म की खुशी में रकम मांगने आया। उसने परिवार से 1200 रुपये मांगें, लेकिन गरीब परिवार इतना भुगतान करने को तैयार नहीं था। बार-बार इतना कहने के बाद भी किन्नर ने एक न सुनी। किन्नर ने नवजात को मां से लिया छीन आरोप है कि इसके बाद किन्नर ने मां के हाथ से नवजात बच्ची को छीन लिया। उसने उसे तीन घंटे पास रखा। घंटों तक वह बच्ची के सामने ढोल बजाता रहा और अश्लील नृत्य करता रहा। बच्ची भूख से बिलबिला रही थी, लेकिन किन्नर ने इस ओर ध्यान नहीं दिया। अंत में नवजात शिशु ने भूख से दम तोड़ दिया। इस घटना के बाद स्थानीय लोगों में आक्रोश फैल गया। लोगों ने किन्नर को पकड़कर बाद में पुलिस के हवाले कर दिया।
error: Content is protected !!
Join Whatsapp