2 जुलाई को खाजूवाला बंद, जानिए क्यों ?

- खाजूवाला पुलिस की नाकामी को लेकर एसडीएम कार्यालय पर व्यापारियों ने नारेबाजी कर प्रर्दशन किया - 2 जुलाई को खाजूवाला बन्द का आह्वान, सभी एशोसिएशन ने दिए समर्थन का एसडीएम मनीष फ़ौजदार को कलेक्टर, आईजी व एसपी के नाम सौंपा ज्ञापन। खुलासा न्यूज़, खाजूवाला। खाजूवाला में लूट-पाट व चोरी की घटनाओं में पुलिस की निष्क्रियता पर अब सवाल उठने लगे है। पिछले दिनों कस्बे में लूट व चोरी की घटनाओं के विरोध में शुक्रवार को नई अनाज मंडी खाजूवाला के व्यापारियों ने एसडीएम कार्यालय पर प्रर्दशन किया और नारेबाजी कर आक्रोश जताया। व्यापारी रामप्रताप भादू के नेतृत्व में एसडीएम मनीष फ़ौजदार को जिला कलेक्टर, आईजी व एसपी बीकानेर के नाम ज्ञापन सौंपा गया। जिसमें व्यापारी मनीराम गोदारा ने बताया कि पिछले सप्ताह खाजूवाला एसबीआई बैंक से नई धान मंडी आढ़त की दुकान पर एक मुनीम बाबूलाल अपने व्यापारी राधेश्याम कूकणा के 2 लाख रुपये थैले में डालकर ले जा रहा था।

तभी अज्ञात युवक रैकी कर थैले से 2 लाख रुपये लेकर भाग गए। जो घटना कस्बे में एक दुकान पर लगे सीसीटीवी कैमरो में कैद हो गई। इसके अलावा आबकारी थाना के सामने मिस्त्री मार्केट से दिनदिहाड़े एक किसान का ट्रैक्टर अज्ञात व्यक्ति स्टार्ट कर ले गए और गुरुवार को एसबीआई बैंक के सामने एक दुकान से दिन में गले से हजारों रुपये चोरी कर अज्ञात व्यक्ति रफूचक्कर हो गया। लेकिन किसी भी घटना को काफी दिन गुजर जाने के बाद भी अभी तक खाजूवाला पुलिस ने ट्रेस नही किया हैं। जिससे पुलिस की कहावत आमजन में विश्वास अपराधियों में डर उल्टी चरितार्थ हो रही हैं।

 

इसके अलावा 10 दिनों में चोरी व लूट पाट की बढ़ती घटनाओं में पुलिस असफल रही हैं जो पुलिस की निष्क्रियता पर सवाल उठाने के साथ अपराधियों में हौंसले बुलंद करने में कोई कसर नही छोड़ी हैं। वहीं व्यापारियों ने ज्ञापन के द्वारा चेतावनी दी हैं कि अगर 1 जुलाई तक चोरी व लूट-पाट की घटनाओं का पता लगाकर दोषियों को गिरफ्तार नहीं किया गया तो 2 जुलाई को खाजूवाला बन्द रखकर धरना-प्रर्दशन किया जायेगा। जिसमें अगर कोई नुकसान होता हैं तो इसकी जिम्मेदारी पुलिस प्रशासन की होगी। इस दौरान प्रर्दशन एवं ज्ञापन सौंपने में रामप्रताप भादू, मनीराम गोदारा, रतन कुमार, भागीरथ पूनियां, ओमप्रकाश पेड़ीवाल, राधेश्याम कूकणा, ओम मान, शिवकुमार मारू, मुकेश सोमानी, बार एशोसिएशन के अध्यक्ष एडवोकेट रफीक शाह, तोलाराम गोदारा, खेमराज, जगदीश अरोड़ा, प्रकाशचंद मालू, गिरिराज गेरा सहित बड़ी सँख्या में मंडी के व्यापारी मौजूद रहे।

error: Content is protected !!