बिना विदेशी पर्यटकों के अंतरराष्ट्रीय ऊंट उत्सव शुरू, हेरिटेज वॉक का स्वागत करने पुष्प व मिठाई लिए खड़े रह गए लोग, प्रशासन ने वॉक का रूट बदला - Khulasa Online

बिना विदेशी पर्यटकों के अंतरराष्ट्रीय ऊंट उत्सव शुरू, हेरिटेज वॉक का स्वागत करने पुष्प व मिठाई लिए खड़े रह गए लोग, प्रशासन ने वॉक का रूट बदला

बीकानेर. तीन दिवसीय अंतरराष्ट्रीय ऊंट उत्सव का शुभारम्भ रविवार को हैरिटेज वॉक के साथ हुआ। लेकिन इस बार उत्सव मेें अभी तक एक भी विदेशी सैलानी नहीं आए। पर्यटन विभाग के अधिकारियों के अनुसार इस उत्सव में विदेशी पर्यटक अभी तक तो नहीं आए है। अधिकारियों ने बताया कि इनदिनों वीजा का समस्या के चलते विदेशी पर्यटक नहीं आ रहे है। 8 मार्च को कुछ ट्रैवल्स एजेंट की ओर से विदेशी पर्यटकों का ग्रुप आने की संभावना है। हर साल अंतरराष्ट्रीय ऊंट उत्सव से पहले ही विदेशी पर्यटक आ जाते है, लेकिन इस बार विदेशी पर्यटक अभी तक नहीं आए है। ऐसे में इस उत्सव के पहले दिन सिर्फ शहरवासी ही शामिल हुए। पर्यटन विभाग के अधिकारियों के प्रचार व प्रबंधन की कमी के चलते इस बार एक भी विदेशी सैलानी नहीं आया। हाल ही में जैसलमेर में आयोजित हुए मरू महोत्सव में विदेशी सैलानी शामिल हुए थे, लेकिन बीकानेर के अंतरराष्ट्रीय ऊंट उत्सव में एक भी विदेशी सैलानी शामिल नहीं होने से पर्यटन विभाग व प्रशासन की जमकर कमी सामने आई है। ऐसे में इस अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बीकानेर की गरिमा पर सवाल उठा है। पुष्प लिए खड़े रह गए लोग अंतरराष्ट्रीय ऊंट उत्सव के पहले दिन ही विवाद हो गया। जिसमें शहरवासियों ने प्रशासन पर मनमर्जी करने का आरोप लगाया। लोगों ने आरोप लगाया कि इस बार हेरिटेज वॉक का रूट हर वर्ष होने वाले हेरिटेज वॉक के रूट से अलग रखा गया है। हर बार हेरिटेज वॉक रामपुरिया हवेली से तेलीवाड़ा, आसानियों का चौक, मोहता चौक, बड़ाबाजार, मावा पट्टी व लक्ष्मीनाथ मंदिर व बीकाजी टेकरी तक जाती थी, लेकिन इस बार हेरिटेज वॉक लक्ष्मीनाथ मंदिर से शुरू हुई थी। जो मंदिर से शुरू होकर सब्जी बाजार, मावा पट्टी और रामपुरिया हवेली तक पहुंची। जिसके चलते लोग इस हेरिटेज वॉक को देखने से वंचित रह गए। लोगों का आरोप है कि उनके द्वारा हेरिटेज वॉक पर पुष्प वर्षा करने के लिए पुष्प रखे रह गए थे, साथ ही हेरिटेज वॉक मेंं शामिल लोगों का जगह-जगह स्वागत होता है इस बार भी लोग स्वागत के लिए खड़े रहे लेकिन हेरिटेज वॉक दूसरे मार्ग से निकल गई। जिसके चलते लोगों के स्वागत करने की व्यवस्था धरी की धरी रह गई। जिस मार्ग से हेरिटेज वॉक निकाली गई वहां पूरा मार्ग गड्ढों और गंदगी से भरा पड़ा है। इसके अलावा लोगों का आरोप है कि मोहता चौक, मरूनायक चौक, तेलीवाड़ा में रखा गया था, 50 किलो फूल व मिठाई रखी गई थी। स्वागत के लिए पूरा परिवार था। पर्यटन विभाग की कमी मोहता चौक में हेरिटेज को छोड़कर मावा पट्टी चले गए। अधिकारी अपनी मनजमर्जी के चलते शहरवासियों की अनदेखी कर रहा है।
error: Content is protected !!
Join Whatsapp