मेडल जीतकर मालामाल हुए भारतीय खिलाड़ी, सरकारी नौकरी से लेकर मिला करोड़ों रुपए का प्राइज - Khulasa Online

मेडल जीतकर मालामाल हुए भारतीय खिलाड़ी, सरकारी नौकरी से लेकर मिला करोड़ों रुपए का प्राइज

देश के लिए मेडल जीतने वाले खिलाड़ियों पर इनामों की बारिश शुरू हो गई है। बॉक्सर मीराबाई चानू से लेकर पहलवान रवि दहिया और हॉकी टीम के खिलाड़ी एक ही दिन में करोड़पति बन गए हैं। उन खिलाड़ियों की भी झोली खाली नहीं रही, जिन्होंने ओलिंपिक में देश का प्रतिनिधित्व किया।

राज्य सरकारों से लेकर रेलवे, भारतीय ओलिंपिक संघ और कुछ बिजनेसमैन तक ने खिलाड़ियों के प्रदर्शन की सराहना करते हुए उन्हें कैश रिवॉर्ड देने का ऐलान किया है।

1. सिल्वर मेडलिस्ट मीराबाई चानू मणिपुर में ASP बनीं, 3 करोड़ कैश मिले टोक्यो ओलिंपिक में भारत का खाता खोलने वाली सिल्वर मेडलिस्ट वेटलिफ्टर मीराबाई चानू को मणिपुर सरकार ने 1 करोड़ कैश और एडिशनल सुपरिटेंडेंट ऑफ पुलिस (ASP) बनाया है। राज्य के मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह ने उन्हें 1 करोड़ रुपए कैश भी दिए हैं। वहीं, रेल मंत्री ने भी रेलवे की ओर से 2 करोड़ रुपए कैश प्राइज देने का ऐलान किया है। मणिपुर सरकार ने ओलिंपिक में भाग लेने वाले राज्य के हर खिलाड़ी को 25 लाख रुपए देने की घोषणा की है।

2. शटलर पीवी सिंधु को आंध्र सरकार ने 30 लाख दिए बैंडमिंटन में भारत को ब्रॉन्ज दिलाने वालीं पीवी सिंधु को आंध्र प्रदेश सरकार ने 30 लाख रुपए कैश देने का ऐलान किया है। इसके अलावा इंडियन ओलिंपिक एसोसिएशन (IOA) ने भी सिंधु को 25 लाख रुपए देने की घोषणा की है। सिंधु पहली भारतीय महिला हैं जिन्होंने लगातार दूसरे ओलिंपिक में मेडल जीता है। 2016 के रियो ओलंपिक में भी सिंधु ने सिल्वर जीता था।

3. भारतीय मुक्केबाज लवलिना बोरगोहेन के गांव की सड़क बन गई भारतीय मुक्केबाज लवलिना बोरगोहेन टोक्यो ओलिंपिक में कांस्य पदक जीतने में सफल रहीं। असम के गोलाघाट की रहने वाली लवलिना को असम सरकार ने जीत का बड़ा तोहफा दिया है। ये तोहफा उनके लिए नहीं बल्कि उनके गांव के लोगों के लिए भी खुशी का सबब बन गया है। ये सड़क कई सालों से खराब थी। लवलिना की जीत ने इस सड़क को जिंदा कर दिया।

4. हॉकी टीम के प्लेयर्स को 1 करोड़ से ढाई करोड़ तक का इनाम ओलिंपिक इतिहास में 41 साल बाद मेडल जीतने वाले भारतीय हॉकी प्लेयर्स भी करोड़पतियों की लिस्ट में शामिल हो गए हैं। पंजाब सरकार ने टीम में शामिल अपने 10 खिलाड़ियों को एक-एक करोड़ रुपए कैश प्राइज देने का ऐलान किया है।

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी टीम का हिस्सा रहे अपने 2 खिलाड़ियों विवेक सागर और नीलकांता शर्मा को 1-1 करोड़ रुपए देने की घोषणा की है। मणिपुर सरकार ने भी नीलकांता शर्मा को 75 लाख रुपए नकद देने के साथ ही सरकारी नौकरी देने की घोषणा की है। नीलकांता अभी रेलवे में बतौर टीसी काम कर रहे हैं।

नीलकांता मणिपुर के रहने वाले हैं और मध्यप्रदेश हॉकी अकादमी में प्रैक्टिस करते हैं। हरियाणा सरकार ने भी राज्य के दो खिलाड़ियों को 2.5-2.5 करोड़ रुपए, खेल विभाग में नौकरी और कंसेशनल रेट पर प्लॉट देने का ऐलान किया है। वहीं, हिमाचल प्रदेश की सरकार ने अपने एक खिलाड़ी वरुण कुमार को 75 लाख रुपए कैश देने की घोषणा की है।

5. पहलवान रवि दहिया को 4 करोड़ कैश, क्लास वन की सरकारी नौकरी हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्‌टर ने टोक्यो ओलिंपिक में सिल्वर जीतने वाले पहलवान रवि दहिया को 4 करोड़ रुपए कैश के साथ क्लास वन की सरकारी नौकरी और कंसेशनल रेट पर प्लॉट देने की घोषणा की है।

मेडलिस्ट, कोच और खिलाड़ियों को रेलवे देगा कैश प्राइज रेलवे ने भी टोक्यो ओलिंपिक में मेडल जीतने वाले खिलाड़ियों और उनके कोच को कैश अवॉर्ड देने की घोषणा की है। रेलवे ने गोल्ड जीतने वाले खिलाड़ी को 3 करोड़ रुपए और उनके कोच को 25 लाख रुपए देने का ऐलान किया है। सिल्वर जीतने वाले खिलाड़ी को 2 करोड़ और कोच को 20 लाख दिए जाएंगे। ब्रॉन्ज जीतने वाले खिलाड़ियों को 1 करोड़ रुपए और कोच को 15 लाख का इनाम दिया जाएगा। इसके अलावा ओलिंपिक में भाग लेने वाले खिलाड़ियों को 7.5 लाख रुपए दिए जाएंगे।

भारतीय ओलिंपिक संघ भी देगा कैश प्राइज भारतीय ओलिंपिक संघ ने मेडल विजेताओं के लिए कैश प्राइज की घोषणा पहले से कर रखी है। इंडियन ओलिंपिक एसोसिएशन (IOA) ने गोल्ड जीतने पर 75 लाख रुपए, सिल्वर जीतने पर 40 लाख और ब्रॉन्ज जीतने पर 25 लाख रुपए का इनाम देने की घोषणा की है। अब तक के 5 मेडलिस्ट को इसी हिसाब से इनामी राशि दी जाएगी।

प्रधानमंत्री मोदी 15 अगस्त को मेडल विनर से मिलेंगे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्वतंत्रता दिवस पर जब अपना लगातार 8वां भाषण देंगे तो 15 अगस्त को लाल किला में भारतीय ओलिंपिक दल भी विशेष अतिथि के रूप में मौजूद होगा। प्रधानमंत्री मोदी उन्हें अपने आवास पर भी आमंत्रित कर उनसे बातचीत करेंगे। टोक्यो ओलिंपिक में 120 से अधिक खिलाड़ियों सहित 228 लोगों का दल भारत का प्रतिनिधित्व कर रहा है। पीएम मोदी नियमित रूप से टीम को प्रोत्साहित करते रहते हैं।

हॉकी टीम को सम्मानित करेंगे ओडिशा के CM ओलिंपिक में भारतीय हॉकी टीम को ओडिशा सरकार ने स्पॉन्सर किया है। ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक 41 साल बाद ओलिंपिक में मेडल जीतने वाली हॉकी टीम को 16 अगस्त को सम्मानित करेंगे।

महिला हॉकी खिलाड़ियों को घर और कार देने का ऐलान सूरत के हीरा कारोबारी सावजी ढोलकिया ने भी भारतीय महिला हॉकी खिलाड़ियों को घर और कार देने का ऐलान किया है। ढोलकिया ने अपने सोशल मीडिया पर लिखा कि महिला हॉकी खिलाड़ियों को घर का सपना पूरा करने के लिए हमारी कंपनी 11 लाख रुपए की सहायता देगी। इसके साथ ही वो खिलाड़ी जिनके पास घर है, उन्हें कार खरीदने के लिए 5 लाख रुपए दी जाएगी।

बता दें कि ओलिंपिक इतिहास में पहली बार महिला टीम ने सेमीफाइनल तक पहुंची है। उसने तीन बार की गोल्ड मेडलिस्ट टीम ऑस्ट्रेलिया को क्वार्टर फाइनल में 1-0 से हराकर यह मुकाम हासिल किया है। भारतीय टीम शुक्रवार को ब्रॉन्ज के लिए ब्रिटेन के खिलाफ सेमीफाइनल मुकाबला खेलेगी।

error: Content is protected !!
Join Whatsapp