शहर के इस इलाके मे अरोड़ा सर्किल” लिखने के विरोध में कांग्रेस के दो गुट आमने सामने,पार्षद को हिरासत में लिया

बीकानेर। शहर के.नये शहर इलाके मे शुक्रवार दोपहर.को उस समहशय अफरा तफरी मच गई जबरामपुरा बस्ती में एक चौराहे पर "अरोड़ा सर्किल" लिखने के विरोध में कांग्रेस के दो गुट आमने सामने हो गए। मामला इतना बढ़ गया कि पुलिस को वार्ड पंद्रह के पार्षद को हिरासत में लेना पड़ा। एक दुकान पर जमकर तोड़फोड़ की गई है। दरअसल, शुक्रवार दोपहर कांग्रेस नेता और पूर्व पार्षद दीपक अरोड़ा और उसके कुछ साथी एक चौराहे पर नाम लिख रहे थे। इस चौराहे को "अरोड़ा सर्किल" लिखा जा रहा था। इसका पार्षद अब्दुल वाहिद ने विरोध किया। पार्षद के साथ कुछ और समर्थक भी थे। इन लोगों ने सर्किल पर "अरोड़ा सर्किल" नहीं लिखने के लिए कहा तो दूसरा पक्ष भी सामने हो गया। पहले दोनों पक्षों में बोलचाल हुई लेकिन बाद में मारपीट शुरू हो गई। एक दुकान में शीशे तोड़े गए और वहां रखा कुछ फर्नीचर भी तोड़ा गया। ये सब तब हुआ जब खुद पुलिस मौके पर थी। दोनों पक्षों को समझाने का प्रयास किया जा रहा था। पुलिस की उपस्थिति में तोड़फोड़ शुरू हो गई। इस पर मौके से पंद्रह नंबर वार्ड के पार्षद अब्दुल वाहिद को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। पुलिस उसे लेकर नयाशहर थाने पहुंची। जहां थोड़ी ही देर में भारी संख्या में पार्षद के समर्थक पहुंच गए। हालात बिगड़ते देख पुलिस ने पार्षद को शांति भंग करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया। बाद में पुलिस अधिकारी भी मौके पर पहुंचे। नयाशहर थानाधिकारी गोविन्द सिंह ने रामपुरा बस्ती पहुंचकर स्थिति को संभाला।
error: Content is protected !!
Join Whatsapp