शहर के इन इलाको में चाइनीज मांझे की भरमार, तंग गलियों में बना रखे है गोदाम - Khulasa Online

शहर के इन इलाको में चाइनीज मांझे की भरमार, तंग गलियों में बना रखे है गोदाम

शिव भादाणी बीकानेर। आखातीज  के नजदीक आते ही शहर में पतंग उडने शुरु हो जाते है लेकिन कुछ लालची दुकानदार ज्यादा रुपये कमाने के चक्कर में आम जन व पक्षियों के जान से खेल रहे है। अगर देखा जाये तो शहर में भारी मात्रा में चाइनीज मांझे का व्यापार हो रहा है लेकिन पुलिस की पकड़ से दूर है। इसका मुख्य कारण है कि दुकानदार अपनी दुकान में नहीं रखकर दूसरी जगह गोदाम बना रखे है जहां भारी मात्रा में चाइनीज मांझा रखा हुआ है। जब भी कोई व्यक्ति चाइनीज मांझे की मांग करता है तो दुकानदार किसी दूसरे व्यक्ति को भेजकर मांगवा देता है। प्राय: चाइनीज मांझा रात के समय बिक्री होता है। शहर के इन इलाकों में है भारी मात्रा में चाइनीज मांझा कोटगेट, जस्सूसर गेट, नत्थुसर गेट, मुरलीधर, नत्थुसर बास, बड़ा बाजार, चौखंूटी, व्यास कॉलोनी, मुक्ता प्रसाद, छींपों के मौहल्ला, छबीली घाटी, लक्ष्मीनाथ मंदिर के पास एरिया, गंगाशहर, गोपेश्वर बस्ती, भीनासर, सीटी कोतवाली थाने में पास आदि जगहों पर दुकान है जिनके गोदामों में भारी मात्रा में चाइनीज मांझा भरा हुआ है जो बड़े स्तर पर बिक्री हो रहा है। पुलिस प्रशासन की लाख कोशिश के बावजूद शहर में धड़ल्ले से बिक्री हो रहा है। अगर देखा जाये तो सबसे ज्यादा चाइनीज मांझा सप्लाई शहर के बड़ा बाजार व छींपों के मौहल्ले से हो रहा है जहां गोदामों में माल भर रखा है। कई बड़ी घटनाएं होने के बाद नहीं चेता प्रशासन इस चाइनीज मांझे शहर में कई बड़ी घटनाएं घटित हो चुकी है लेकिन प्रशासन अब भी नहीं चेता है। अगर देखा जाये तो शहर के प्रत्येक थाने के बीट कांस्टेबल को अपने इलाके की पूरी जानकारी होती है कि कौनसा व्यक्ति किस व्यवसाय से जुड़ा हुआ तो क्या उनको यह नहीं पता कि उनके इलाके में चाइनीज मांझा कौनसा व्यक्ति खुलेआम बेच रहा है। जानकारी होने के बाद भी पुलिस व प्रशासन उन पर कार्यवाही करने से कतराते है क्योकि उनको पता है अगर कार्यवाही की कोई ना कोई राजनेता फोन करके उनको छुड़ाने की सिफारिश् करेंगें।
error: Content is protected !!
Join Whatsapp 26