फिल्ड फायरिंग रेंज में ग्वालो को बंधक बनाकर की मारपीट, कैम्पर गाड़ी को किया आग के हवाले,

महेश कुमार देरासरी बीकानेर। महाजन फील्ड फायरिंग रेंज में स्क्रैप ठेकेदार ने एक अक्टूबर को रेवड़ चराने वालों ग्वालों के साथ जातिसूचक गालियां निकालते हुए बंधक बनाकर मारपीट की । वहीं कैंपर गाड़ी को आग के हवाले कर दिया। जिसका महाजन थाने मे मामला दर्ज हुआ है। थाना के उप निरीक्षक राजेंद्र कुमार ने बताया कि परिवादी लालचंद मेघवाल निवासी महादेव वाली ने दर्ज रिपोर्ट में बताया कि उसका भाई मनोज कुमार रेवड़ चराने के लिए महाजन फील्ड फायरिंग रेंज में गया हुआ था। गत 1 अक्टूबर को मनोज कुमार की तबियत खराब होने के समाचार मिलने पर लालचंद अपने साथ डूंगर राम नायक व राजाराम को साथ लेकर कैंपर गाड़ी में रात को ही भाई को लाने के लिए महाजन फील्ड फायरिंग रेंज के लिए रवाना हो गए। फायरिंग रेंज के रास्ते में ही एक गाड़ी आई और उनको रोक लिया। जिसमें शीशपाल जाट शिवनाथ पुरा, तरुण बिश्नोई गोपालसर ,इंद्राज बिश्नोई हजरासर, मुखराम लेघा अजीतमाना दो-तीन अन्य सहित उनके सामने आए गाड़ी रुकवा ली। और उनके साथ वहीं पर मारपीट करने लगे। मारपीट करने के बाद उनकी कैंपर गाड़ी को आग के हवाले कर दिया। वहीँ आरोपियों ने उन्हें आर्मी केम्प में बंधक बनाकर बनाकर सारे कपड़े उतरवा दिए । राजाराम से 6000 हजार रुपये व डूंगरराम का मोबाइल छीन लिया। उसके साथ कैंप में भी मारपीट कर जातिसूचक गालियां निकाली गई । अगली सुबह कालूराम जाट निवासी नाहरांवाली भी आया और उनके साथ गाली गलौच कर मारपीट की व तीनों को बंधक बनाए रखा । आरोपियों ने तीन दिन बाद लोगो को छोड़ दिया। गांव आने के बाद गांव के मौजिज लोगों ने राजीनामे का दबाव बनाया और इलाज के दौरान भी समय लग गया। पांच दिन बाद पुलिस में रिपोर्ट दर्ज देते हुए मामला दर्ज करवाया । मामले की जांच एससी-एसटी सेल बीकानेर के पुलिस उप अधीक्षक ओम प्रकाश चौधरी कर रहे हैं।
error: Content is protected !!
Join Whatsapp