रिश्वतखोरी के मामले में अब मुख्य प्रबंधक भी चढ़ा एसीबी के हत्थे - Khulasa Online

रिश्वतखोरी के मामले में अब मुख्य प्रबंधक भी चढ़ा एसीबी के हत्थे

बीकानेर। बैक कर्मचारी को बचाने के लिए लाखों रुपये की रिश्वत खोरी के मामले में अब एसीबी ने बैक मैनेजर को दबोचा है। एसीबी एएसपी रजनीश पूनिया ने बताया कि आरोपी 39 वर्षीय विकास गर्ग पुत्र गोविंद राम अग्रवाल को जुर्म प्रमाणित पाए जाने‌ पर गिरफ्तार कर लिया गया। आरोपी फिलहाल श्रीगंगानगर स्थित दी गंगानगर सेंट्रल कॉपरेटिव बैंक लिमिटेड का मुख्य प्रबंधक है। इसी संबंध में एसीबी में मुकदमा नंबर 327/21 दर्ज हुआ। एसीबी ने जांच कर पहले अतिरिक्त रजिस्ट्रार मंगतराम खन्ना को गिरफ्तार किया था। उससे पूछताछ में सामने आया कि मंगतराम व विकास गर्ग में मिलीभगत थी। विकास के माध्यम से ही रिश्वत राशि मंगतराम तक पहुंचती थी। अनुसंधान में जुर्म प्रमाणित पाए जाने पर एसीबी इंस्पेक्टर दिलीप कुमार ने विकास को गिरफ्तार कर लिया। एसीबी मामले की जांच कर रही है।
error: Content is protected !!
Join Whatsapp