मामूली विवाद में छह जनों ने मिलकर युवक को उतार दिया मौत के घाट - Khulasa Online

मामूली विवाद में छह जनों ने मिलकर युवक को उतार दिया मौत के घाट

श्रीगंगानगर। जिले के श्रीबिजयनगर इलाके में ईंट भट्‌ठे पर हुए मामूली विवाद के बाद छह लोगों ने एक आदमी को इतना पीटा कि इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। पिटाई का शिकार हुआ युवक मघाराम जोधपुर जिले की फलौदी तहसील के गांव मामलसिंह की सिड का रहने वाला था। इलाज के दौरान दो दिन पहले उसकी बीकानेर के पीबीएम अस्पताल में मौत गई। तब से मामला हत्या में बदल गया। पुलिस ने इस मामले में मिली जानकारियों के आधार पर छह लोगों को गिरफ्तार किया है। यह हुआ था विवाद श्रीबिजयनगर इलाके के गांव 18 जीबी में सतगुरु ब्रिक्स पर एक गाड़ी ईंट भरने के लिए आई थी। इस गाड़ी के चालक गांव दस एसडी जानकीदासवाला के कुलविंद्रसिंह ने यहां किसी बात को लेकर लेबर से गाली गलौज की और जान से मारने की धमकियां दीं। अगले दिन मजदूर मघाराम रात को ईंट भट्‌ठे पर सो रहा था। इसी दौरान चार पांच लोग आए और उस पर कस्सी और डंडों से हमला कर दिया। मारपीट से जब मघाराम गंभीर घायल हो गया तो आरोपी उसे मरा हुआ समझकर छोड़ गए। उसे इलाज के लिए बीकानेर के पीबीएम अस्पताल रैफर किया गया। वहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। पुलिस ने किया छह को गिरफ्तार पुलिस ने जांच शुरू की तो इसमें कई लोगों के शामिल होने की बात सामने आई। इस मामले में जानकीदासवाला के जसप्रीतसिंह उर्फ जस्सासिंह पुत्र राजासिंह, कुलविंद्रसिंह उर्फ काली पुत्र तोतासिंह, संदीपसिंह उर्फ गौरी पुत्र तोतासिंह, सूरतगढ़ के प्रिंसपालसिंह उर्फ प्रिंस पुत्र रणजीतसिंह, श्रीबिजयनगर थाना क्षेत्र के गांव 33 जीबी निवासी रमेश कुमार पुत्र पन्नाराम और पंजाब के फिरोजपुर निवासी सुखजिंद्रसिंह उर्फ छिंदा पुत्र कारजसिंह को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस इन लोगों का क्रिमिनल रिकॉर्ड देख रही है तथा इनसे कई जानकारियां जुटाई जा रही हैं।
error: Content is protected !!
Join Whatsapp