गुमशुदा लडक़ी नहीं मिली तो मां-बेटी टावर पर चढ़ीं - Khulasa Online

गुमशुदा लडक़ी नहीं मिली तो मां-बेटी टावर पर चढ़ीं

श्रीगंगानगर। श्रीगंगानगर के सीमावर्ती गांव अराईयावाली बराणी में गुमशुदगी के एक मामले में कार्रवाई नहीं होने से नाराज मां-बेटी रविवार को मोबाइल टावर पर चढ़ गईं। 13 सितंबर से 20 साल की बेटी लापता है। उसकी बरामदगी के लिए कई बार थाने गईं। कोई कार्रवाई नहीं होती देख उनका धैर्य जवाब दे गया। परेशान होकर उन्हें अपनी बात मनवाने के लिए टावर पर चढऩा पड़ा। करीब आठ घंटे तक मां-बेटी के टावर पर रहने के दौरान पुलिस समझाती रही। दोनों रटावर पर चढ़ीं। दोपहर ढाई बजे गुमशुदगी के मामले में कार्रवाई के आश्वासन के बाद दोनों नीचे उतरीं। इसके बाद दोनों टावर के नीचे धरने पर बैठ गईं। शाम तक टावर के नीचे दोनों का धरना जारी था। उन्होंने चेतावनी दी है कि अगर पुलिस ने कार्रवाई नहीं की तो वो दोनों फिर टावर पर चढ़ जाएंगी। छह दिन से लापता है युवती गांव अराईयावाली बराणी की मनोदरी (20) 13 सितंबर को लापता हो गई। उसकी तलाश करने के लिए मनोदरी की मां रुकमा और बहन पूजा पिछले छह दिन से थाने के चक्कर काट रही थीं। परेशान मां-बेटी रविवार सुबह बिना कुछ बताए गांव में बने टेलीकॉम कंपनी के टावर पर चढ़ गईं। उन्होंने मैसेज के जरिए अपने परिचितों को इसकी जानकारी दे दी। इससे बड़ी संख्या में ग्रामीण और महिलाएं टावर के नीचे पहुंच गए। पुलिस भी मौके पर आई। उन्होंने टावर पर चढ़ी मां-बेटी से संपर्क साधना शुरू कर दिया। पुलिस दल उनसे नीचे उतरने का आग्रह करता रहा, लेकिन मां-बेटी नहीं मानीं। करीब 8 घंटे टावर पर रहने के बाद दोनों को पुलिस ने कार्रवाई का आश्वासन दिया। तब जाकर नीचे उतरीं। टावर के नीचे धरना मां-बेटी और गांव की महिलाओं ने टावर के नीचे धरना देना शुरू कर दिया। गुमशुदा युवती की बहन पूजा ने कार्रवाई नहीं होने पर फिर से टावर पर चढऩे की चेतावनी दी है। एसएचओ इमरान खान ने बताया कि गुमशुदा को ढूंढने का प्रयास किया जा रहा है।

error: Content is protected !!
Join Whatsapp