ड्यूटी पर गये होमगार्डों को खाने पीने की व्यवस्था स्वंय को करनी होगी - Khulasa Online ड्यूटी पर गये होमगार्डों को खाने पीने की व्यवस्था स्वंय को करनी होगी - Khulasa Online

ड्यूटी पर गये होमगार्डों को खाने पीने की व्यवस्था स्वंय को करनी होगी

बीकानेर। 19 अप्रैल की रात तक बीकानेर में ड्यूटी की और 20 को बाड़मेर के लिए कर दिया रवाना लोकसभा चुनाव में चार दिन तक लगातार बीकानेर में ड्यूटी करने के बाद 775 अरबन होमगार्डों को द्वितीय चरण का चुनाव करवाने के लिए बाड़मेर भेजा गया है। ये होमगार्ड सात दिन तक वहां ड्यूटी करेंगे और इस दौरान खाने-पीने का इंतजाम खुद ही करेंगे। बीकानेर में लोकसभा चुनाव के लिए 810 अरबन होमगार्ड की ड्यूटी लगाई गई थी। 19 अप्रैल को मतदान के बाद ये जवान देररात तक ईवीएम मशीन के साथ पॉलिटेक्निक कॉलेज पहुंचे और ईवीएम जमा कराने तक ड्यूटी की।अगले दिन 20 अप्रैल को ही इनमें से 775 होमगार्डों को 16 बसों में बाड़मेर के लिए रवाना कर दिया गया। वहां लोकसभा चुनावके द्वितीय चरण में 21 से 27 अप्रैल तक ड्यूटी करेंगे। सात दिन तक वहां रहने के दौरान होमगार्ड को खाने, चाय-नाश्ते का इंतजामअपने स्तर पर ही करना होगा। केवल रुकने की व्यवस्था बाड़मेर एसपी की ओर से की जाएगी। बड़ी संख्या में ऐसे होमगार्ड हैं जोआर्थिक रूप से कमजोर हैं और जिनके लिए सात दिन तक खाना और चाय-नाश्ते का इंतजाम अपने स्तर पर करना मुश्किल है।लेकिन, होमगार्ड अधिकारियों की ओर से ड्यूटी पर नहीं आने वालों को नोटिस, 6 माह की ड्यूटी से वंचित और डिस्चार्ज करनेके कड़े आदेश के कारण वे बाड़मेर के लिए रवाना हो गए। होमगार्डों ने परिवार में शादी और बीमारी की अर्जी देकर बाड़मेर जानेमें असमर्थता जताई थी, लेकिन उनकी अर्जी खारिज कर दी गई।

error: Content is protected !!
Join Whatsapp 26