इन जिलों आज भारी बरसात का अलर्ट - Khulasa Online

इन जिलों आज भारी बरसात का अलर्ट

सीकर। राजस्थान में प्री मानसूनी गतिविधियां रविवार को भी जारी रहेगी। इस दौरान प्रदेश के पांच जिलों में भारती बरसात होने की संभावना है। वहीं, कई जिलों में हल्की से मध्यम दर्जे की बरसात हो सकती है। जिसके साथ हवाओं की रफ्तार भी तेज रहेगी। मौसम विज्ञान केंद्र जयपुर के अनुसार प्रदेश में आगामी दो दिनों तक यह गतिविधियंा जारी रहेगी। जिसके बाद मौसम साफ हो जाएगा। मौसम विज्ञान केंद्र जयपुर के अनुसार रविवार को पूर्वी राजस्थान के उदयपुर, सिरोही, डूंगरपुर, झालावाड़ा तथा बांसवाड़ा जिलों में कहीं-कहीं भारी वर्षा और मेघगर्जन व वज्रपात के साथ 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलने की संभावना है। वहीं, भीलवाड़ा, राजसमंद, , चित्तौडगढ़़, प्रतापगढ़, डूंगरपुर, अजमेर, दौसा व कोटा जिलों में कहीं-कहीं पर मेघ गर्जन वज्रपात के साथ 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से हवा चलेगी। जबकि पश्चिमी राजस्थान में बीकानेर, चूरू व बाड़मेर जिलों में कहीं-कहीं मेघगर्जन-वज्रपात के साथ अचानक से 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल सकती है और नागौर, जोधपुर, जालौर व पाली जिले में मेघ गर्जन व वज्रपात की संभावना है। विभाग के अनुसार भारी बरसात की संभावना उदयपुर संभाग में ही है। उदयपुर संभाग के कुछ इलाकों के अलावा कोटा संभाग में कहीं-कहीं पर हल्की से मध्यम दर्जे की वर्षा होने की संभावना है। कल यहां आंधी व बरसात मौसम विभाग के अनुसार 21 जून को पूर्वी राजस्थान के जयपुर, अजमेर , भीलवाड़ा, टोंक व सीकर जिलों में कहीं-कहीं मेघगर्जन व वज्रपात की संभावना है। जबकि पश्चिमी राजस्थान के बीकानेर, हनुमानगढ़, चूरु, नागौर , जोधपुर, जैसलमेर व गंगानगर जिलों में कहीं-कहीं में मेघगर्जन व वज्रपात की संभावना है। इस दौरान उदयपुर, कोटा, अजमेर व जयपुर संभाग में कहीं-कहीं हल्की से मध्यम दर्जे की बरसात भी हो सकती है। यही हालात पश्चिमी राजस्थान के जोधपुर और बीकानेर संभाग में रहेगा। दो दिन बाद मौसम साफ मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार दो दिन की प्री मानसूनी गतिविधियों के बाद 22 जून से मौसम साफ हो जाएगा। प्रदेश के सभी जिलों में इसके बाद कम से कम तीन दिन तक मौसम साफ रहेगा। सीकर में बढ़ा पारा इधर, शेखावाटी के सीकर जिले में हल्की बूंदाबादी के दौर के बीच दो दिन से गर्मी का असर बढ़ा हुआ है। धूप की तेजी व उमस की वजह से आम जनजीवन प्रभावित हो रहा है। शनिवार को अंचल में अधिकतम तापमान भी 38 डिग्री दर्ज हुआ।
error: Content is protected !!
Join Whatsapp