राजस्थान में आज-कल हीटवेव की चेतावनी, जानिए बारिश होने में कितने दिन बाकी? - Khulasa Online

राजस्थान में आज-कल हीटवेव की चेतावनी, जानिए बारिश होने में कितने दिन बाकी?

जयपुर प्रदेश में मानसून को आए 10 दिन से हो गए है, लेकिन अभी भी राजस्थान के कई जिले तेज गर्मी की चपेट में हैं। फिहलाल आगामी दिनों में भी राहत मिलती नहीं दिखाई दे रही है। मौसम विभाग ने विभिन्न जगहों पर लू चलने की चेतावनी दी। मौसम विभाग के अनुसार, राज्य के अधिकांश भागों में आगामी चार पांच दिन मौसम मुख्यतः शुष्क रहेगा। आगामी 48 घंटों के दौरान बीकानेर, जोधपुर, जयपुर भरतपुर और कोटा संभाग के जिलों में कहीं-कहीं लू चलने की संभावना है। हालांकि उदयपुर और कोटा संभाग के जिलों में आज भी कहीं कहीं हल्की दर्जे की बारिश होने की संभावना बनी हुई है। कई जिलों में 40 के पार तापमान उल्लेखनीय है कि बुधवार को दिन का अधिकतम तापमान चूरू व करौली में 44.4 डिग्री सेल्सियस, धौलपुर में 44.3 डिग्री, पिलानी में 44.2 डिग्री, गंगानगर में 44.1 डिग्री, अलवर में 44.0 डिग्री, बीकानेर में 43.1, जयपुर का पारा 41.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। वहीं पिछले 24 घंटों में पूर्वी और पश्चिमी राजस्थान में ऊष्म लहर( Heat Wave) के साथ ही पूर्वी राजस्थान के अलवर और बूंदी जिले में अतिउष्म लहर (Severe heat wave)भी दर्ज की गई है। सर्वाधिक अधिकतम तापमान चूरू और करौली में 44.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है। अगले चार- पांच दिन परिस्थितयां अनूकूल नहीं मौसम विभाग से मिली जानकारी के अनुसार प्रदेश में फिलहाल तापमान काफी तेज है। दिन के तापमान की बात करें, तो तेज गर्मी के साथ कही जिलों में उमस भी लोगों की परेशान हो रहे है। 40 डिग्री से ज्यादा पारा तपन पैदा कर रहा है। वहीं मानसून की उतरी सीमा आज भी बाड़मेर, भीलवाड़ा व धौलपुर से गुजर रही है, यानि पिछले ग्यारह दिनों से स्थिर है। ऐसे में बारिश की संभावनाएं बन नहीं पा रही है। विभाग का कहना है कि वर्तमान स्थिति के अनुसार आगामी पांच- छ दिन राज्य में मानसून के आगे बढ़ने के लिए परिस्थितियां अनुकूल नहीं है। अगले सप्ताह तक हो सकती है बारिश उल्लेखनीय है कि फिलहाल प्रदेश में बारिश के आसार नहीं दिखाई दे रहे है। हालांकि कुछ- कुछ जिलों में कहीं- कहीं बूंदाबादी हो रही है। लेकिन झमाझम बारिश के लिए फिलहाल इंतजार ही करना पड़ रहा है। विभाग का कहना है कि अगले सप्ताह तक प्रदेश में हवाओं की गति बढ़ने के साथ बारिश की संभावनाएं जताई जा सकती है, लेकिन दो- चार दिन मौसम पहले के ही तरह स्थिर रहेगा।
error: Content is protected !!
Join Whatsapp