स्वास्थ्य मंत्री ने कहा जल्द आएगी यह पॉलिसी आएगी, इन नियुक्तियों का रास्ता साफ - Khulasa Online

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा जल्द आएगी यह पॉलिसी आएगी, इन नियुक्तियों का रास्ता साफ

जयपुर. राजस्थान के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री परसादी लाल मीणा ने गुरूवार को विधानसभा में कहा कि निरोगी राजस्थान के निर्माण के लिए गत 3 वर्षों में राजस्थान में बेहतरीन कार्य हुआ है। सर्वश्रेष्ठ सुविधाओं के लिए संकल्पित राज्य सरकार ने चिकित्सा एवं स्वास्थ्य को सर्वोच्च प्राथमिकता दी है। यह प्रयास लगातार जारी रहेगा। साथ ही विभाग सुनिश्चित करेगा कि कोई भी चिकित्सक, नर्सिंगकर्मी और अन्य स्टाफ डेपुटेशन पर नहीं रहे। इसके लिए पदों का समानीकरण किया जायेगा। वहीं, बिना विभाग की अनुमति व जानकारी में लाये यदि किसी भी कार्मिक को डेपुटेशन पर लगाया जायेगा तो संबंधित अधिकारी के विरूद्ध कार्यवाही की जायेगी। यह सुनिश्चित किया जायेगा कि सभी चिकित्सा सेंटरों पर चिकित्सकए नर्सिंगकर्मी और अन्य स्टाफ नियमित कार्यरत रहे। मीणा विधानसभा में मांग संख्या 26 चिकित्सा एवं लोक स्वास्थ्य और सफ ाई की अनुदान मांगों पर हुई बहस का जवाब दे रहे थे। चर्चा के बाद सदन ने चिकित्सा एवं लोक स्वास्थ्य और सफ ाई की 142 अरबए 20 करोड़ 90 लाख 50 हजार रूपये की अनुदान मांगे ध्वनिमत से पारित कर दी। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि अब गंभीर बीमारियों के उपचार और जांच भी निशुल्क हो गई है। मुख्यमंत्री द्वारा बजट घोषणा में मुख्यमंत्री चिंरजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना में अब 5 लाख से बढ़ाकर राशि 10 लाख रुपये कर दी गई है। विभाग लगातार प्रयासरत है कि हर अस्पताल में ईसीजी टेक्निशियन नियुक्त किए जाए। एनएचएम में कम्युनिटी हैल्थ ऑफिसर के 7810 संविदा पदों पर भर्ती कर 391 को नियुक्ति दी जा जा चुकी है एवं शेष ब्रिज कोर्स और दस्तावेज सत्यापन की प्रक्रिया में है। 20 जिलों में 100 प्रतिशत कोविड टीकाकरण उन्होंने सदन में बताया कि कोविड की प्रथम और दूसरी लहर के दौरान प्रदेश में ऑक्सीजन, दवाईयों की कमी नहीं आने दी। वहीं, राजस्थान के मुख्यमंत्री के आग्रह पर ही केंद्र सरकार ने पूरे देश में नि:शुल्क कोविड टीकाकरण कराया। उन्होंने बताया कि वर्तमान में राज्य के 20 जिलों में 100 प्रतिशत कोविड टीकाकरण हो चुका है। प्रदेश में बच्चों को सुरक्षित रखने के लिए टीके लगाये जा रहे हैं। टीका लगाने की उम्र कम करने के लिए केंद्र सरकार से आग्रह किया गया है। जल्द आयेगी राइट टू हैल्थ पॉलिसी मुख्यमंत्री द्वारा जो घोषणायें की गई, उन्हें पूरा किया जायेगा। राजस्थान राईट टू हेल्थ केयर एक्ट का प्रारूप तैयार कर लिया गया है। इसे जल्द ही लागू किया जाएगा। अब सवाई मानसिंह अस्पताल में और अधिक सुविधायें बढ़ायेंगे। यहां राज्य की सबसे ऊची इमारत के रूप में लगभग 450 करोड़ रुपये लागत से 24 मंजिला आईपीडी टॉवर बनाया जा रहा है। इसके वर्कऑर्डर जारी कर दिए गए हैं। यहां एक हेलीपेडए 1200 आईपीडी कॉटेज बैड जैसी सुविधायें भी होंगी। वहीं, कोशिश की जा रही है कि प्रदेश में हर जिले में एक-एक मेडिकल कॉलेज स्थापित हो। उन्होंने कहा कि वर्ष 2018 से लंबित प्रयोगशाला सहायकों की समस्याओं का समाधान निकाला जा रहा है। 965 सहायकों की नियुक्ति का रास्ता खोला है। जल्द नियुक्ति मिलेगी। कोई रिश्वत मांगे तो विभाग को करें सूचित स्वास्थ्य मंत्री मीणा ने बताया कि हाल में मेडिकल दुकानों के निरीक्षण में रिश्वत लेने की घटना सामने आई हैण् संबंधित अधिकारी को एपीओ किया गया हैण् उन्होंने सभी से अपील करी कि ऐसे मामलों में तुरंत विभाग को सूचित करें। ऐसे कार्मिकों पर सख्त कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने बताया कि पीसीपीएनडीटी अधिनियम का उल्लघंन पर सख्त कार्यवाही करते हुए 482 सोनोग्राफ ी केंद्रों के पंजीकरण को निरस्त कर दिए गए हैं।
error: Content is protected !!
Join Whatsapp