गंगाशहर के 39 वर्षीय युवक सहीत 4 की सड़क दुर्घटना में मौत - Khulasa Online

गंगाशहर के 39 वर्षीय युवक सहीत 4 की सड़क दुर्घटना में मौत

  सूरत \ बीकानेर । गंगाशहर के प्रतिष्ठित जैन रत्न से सम्मानित स्व. रतनलाल मालू के पौत्र रोहित 39 वर्ष की सड़क दुर्घटना में मृत्यु हो गयी। रोहित व उसके 4 साथी विदेश यात्रा से आज सुबह मुम्बई एयरपोर्ट पहुंचे थे वहां से कार द्वारा सूरत आ रहे थे की दुर्घटना हो गयी। इस हादसे में चार की मौत घटना स्थल पर हो गयी व दो गंभीर रूप से घायल हो गए जिनका इलाज चल रहा है। रोहित के पिता शुभकरण व माता कंचन देवी के अलावा पत्नी व एक पुत्र 11 वर्ष व पुत्री 2 वर्ष पीछे छोड़ गया। चाचा दिलीप मालू ने बताया कि बाबा जयचन्द लाल मालू कोलकाता से सायं 6 बजे पहुंचने के बाद अन्तिम संस्कार आज सायं 7 बजे निवास A-3, सांई आशीष सोसाइटी, गेट न. 1, ब्रेड लाइनर सर्किल के पास, उधना मगदल्ला रोड से उमरा श्मशान गृह जाएगी ।इनकी फर्म- निधि सिंथेटिक्स, U - 1217, सूरत टेक्सटाइल मार्केट,रिंग रोड़, सूरत है। परिजन कोलकाता , सूरत , दिल्ली व गंगाशहर रहते है। गंगाशहर से रोहित के ससुर निर्मल कोठरी व परिजन तथा मौसी का लड़का विनय चोपड़ा इत्यादि लोग सूरत के लिए रवाना हो गए। इस खबर को सुनते ही जैन समाज में शोक की लहर छा गयी। प्राप्त जानकारी के अनुसार गुजरात के नवसारी में सोमवार सुबह एक कार सामने से आ रहे कंटेनर ट्रक से टकरा गई। इस हादसे में चार लोगों की मौत हो गई और दो अन्य घायल हो गए। दोनों घायलों का नवसारी के सरकारी अस्पताल में इलाज चल रहा है। चिखली पुलिस के एक पुलिस अधिकारी के अनुसार, सूरत-मुंबई को जोड़ने वाले राष्ट्रीय राजमार्ग पर अलीपुर पुल पर दुर्घटना हुई। उत्तर (सूरत से वापी) की ओर से आ रहे एक कंटेनर ट्रक से कार के टकराने के बाद चालक ने पहियों पर नियंत्रण खो दिया । अधिकारी ने कहा कि मृतकों की पहचान अमित थडा, गौरांग अरोड़ा, रोहित मालू , मोहम्मद हम्झा पटेल के रूप में हुई है। ये सभी सूरत के रहने वाले हैं। पुलिस ने कार चालक के खिलाफ लापरवाही से गाड़ी चलाने की वजह से मौत का मामला दर्ज किया है। जानकारी मिल रही है कि हादसे का शिकार हुई कार इनोवा है। इसके अलावा दो अन्य लोग भी इस हादसे में गंभीर रूप से घायल हो गए। दोनों घायलों को तुरंत इलाज के लिए सूरत के एक अस्पताल में भेज दिया गया। जानकारी के अनुसार विदेश यात्रा से लौटे सूरत निवासी रात में मुंबई एयरपोर्ट से इनोवा कार (जीजे-06-एफसी-2754) से सूरत के लिए निकले थे। तड़के 5.30 से 6.15 बजे के दौरान यह इनोवा कार नेशनल हाईवे नंबर तेजी से दौड़ रही थी। तभी अलीपुर ओवरब्रिज से पहले महेंद्र ट्रैक्टर शो रूम के सामने एक कंटेनर (जीजे-15-एवी-6856) से कार की जोरदार टक्कर हो गई। कंटेनर सूरत से वलसाड जा रहा था जबकि कार मुंबई से सूरत आ रही थी। दोनों वाहनों की आमने-सामने टक्कर हो गई। हादसा इतना जोरदार था कि दुर्घटना के बाद कार मलबे में तब्दिल हो गई। कार के बोनट सहित आगे का हिस्सा पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया। कार के अंदर बैठे किसी के पास बचने का समय नहीं था। प्रारंभिक जानकारी मिली है कि कार में बैठे 4 लोगों की मौत हुई है। उन्हें नजदीकी अस्पताल में स्थानांतरित कर दिया गया। हादसे की आवाज इतनी तेज थी कि आसपास के लोग दौड़ पड़े। पुलिस भी मौके पर पहुंच गई है और जांच कर रही है। मृतकों के नाम और पते रोहित शुभकरण मालू (उम्र 40, निवासी - प्लॉट नंबर 3, साई आशीष सोसाइटी, सिटीलाइट, सूरत) , गौरव नंदलाल अरोड़ा (उम्र 40, निवासी - 92, सुभाषनगर, घौड़दौड़ रोड़, सूरत), अमित दौलतराम थदानी (उम्र 41, निवासी - सी-106, वास्तुग्राम अपार्टमेंट, वेसु हैप्पी रेजिडेंसी के पीछे, सूरत) , पटेल मोहम्मद हमजा मोहम्मद हनीफ इब्राहिम (निवास कोसाड)सूरत निवासी घायलों के नाम - ऋषि इंजीनियर, विकास सरा. मीडिया रिपोर्ट की मानें तो हादसे के वक्त कार की रफ्तार काफी तेज थी। कार हादसे के बाद डिवाइडर फांद कर सामने वाली ट्रेक पर चली गई। माना जा रहा है कि दुर्घटना का कारण कार की तेज रफ्तार थी। हादसे के बाद आसपास के लोग इकठ्ठा हो गये। पुलिस ने भी मौका-ए-वारदात पर पहुंचकर जांच शुरु की है। इस हाईवे पर पहले भी कई जानलेवा हादसे हो चुके हैं। पूर्व में भी अमरी गांव के निवासियों ने इस सड़क पर लगातार भारी वाहनों के आवागमन को लेकर कई बार ज्ञापन दिया था. बहरहाल, देखना यह होगा कि क्या इतने गंभीर हादसों के बाद भी पुलिस तंत्र जागा है? या ऐसे ही गंभीर हादसों का सिलसिला यूं ही चलता रहेगा?
error: Content is protected !!
Join Whatsapp 26