धोखाधड़ी कर आठ लाख रूपये हड़प लिये,मामला दर्ज,अब तक कोई कार्यवाही नहीं - Khulasa Online

धोखाधड़ी कर आठ लाख रूपये हड़प लिये,मामला दर्ज,अब तक कोई कार्यवाही नहीं

खुलासा न्यूज,बीकानेर। शहर के नयाशहर थानान्तर्गत एक जने से धोखाधड़ी से आठ लाख रूपये हड़कपने का मामला दर्ज है। लेकिन पुलिस की ओर से अब तक इस मामले में कोई कार्यवाही नहीं की जा रही है। जिसको लेकर पीडि़त परिवादी मानसिक रूप से परेशान है। जानकारी मिली है कि जून में दर्ज इस मामले में पुलिस ने अभी तक गंभीरता नहीं दिखाई है। परिवादी जब इस मामले में पुलिस से कार्यवाही की गुहार लगाता है तो उसे टालमटोल कर रवाना कर दिया जाता है। परिवादी ने बताया कि दस अगस्त 20 को नयाशहर थाने में मेरे द्वारा सुनील गोयल,उसकी पत्नि किरण गोयल तथा पुत्री मोनिका गोयल के खिलाफ उसके साथ धोखाधड़ी कर आठ लाख पच्चीस हजार रूपये हड़पने और खाली चैक पर हस्ताक्षर करवाने का मामला दर्ज करवा था। जिस पर पुलिस ने इन तीनों के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया था। कैसे करे पुलिस पर विश्वास अपराधियों में भय और पुलिस पर विश्वास के श्लोगन पर सवालिया निशान उठाते हुए मंगतूराम ने कहा कि वे पिछले छ: माह से थाने के चक्कर काट रहे है और जांच अधिकारी को इस मामले पर कार्यवाही की गुहार लगा रहे है। किन्तु उनकी कोई सुनवाई नहीं हो रही है। आखिर पीडि़त परिवादी को मीडिया के जरिये अपनी बात जिला पुलिस अधीक्षक तक पहु ंचानी पड़ रही है। उन्होंने पुलिस के आलाधिकारियों से न्याय की गुहार लगाते हुए हड़पी गई राशि दिलवाने की मांग की है। यह है मामला परिवादी के साथ में कार्यालय में काम करने वाले सुनील गोयल ने अपनी पुत्री मोनिका गोयल को पांच लाख रूपये 6.11.18 को दिलावाये। उस राशि के भुगतान पेटे परिवादी से एक चैक संख्या 906179 तथा दो सिक्योरिटी पेटे चैक स ंख्या 54608 व 287865 ने मोनिका ने लिये। उक्त राशि पेटे परिवादी व मोनिका ने एक घोषणा पत्र भी निष्पादित किया। जिसमें राशि व चैकों का वर्णन किया गया था। जिसके बाद मोनिका गोयल ने परिवादी से से सिक्योरिटी प्राप्त किये गये चैक 287865 से दिनांक 4.2.20 को पांच लाख रूपये बैंक खाता संख्या 61025199309 में प्राप्त भी कर लिये। लेकिन मोनिका व उनकी माता किरण गोयल ने आपसी षडयंत्र रचकर परिवादी के साथ धोखाधड़ी करते हुए चैक संख्या 54608 से एसबीआई लालगढ़ ब्रांच से खाता संख्या 51030772937 में राशि जरिये 825000 रूपये प्राप्त कर लिये। जब इसका उलाहना सुनील को दिया तो वे झगड़े पर उतारू हो गया।

error: Content is protected !!
Join Whatsapp