लॉरेंस के नाम से पूर्व सरपंच को मिली धमकी, वॉट्सऐप कॉल कर कहा- 10 लाख पेमेंट ही बचा सकता है - Khulasa Online लॉरेंस के नाम से पूर्व सरपंच को मिली धमकी, वॉट्सऐप कॉल कर कहा- 10 लाख पेमेंट ही बचा सकता है - Khulasa Online

लॉरेंस के नाम से पूर्व सरपंच को मिली धमकी, वॉट्सऐप कॉल कर कहा- 10 लाख पेमेंट ही बचा सकता है

खुलासा न्यूज नेटवर्क। जेल में बंद गैंगस्टर लॉरेंस विश्नोई के नाम पर धमकाने का एक और मामला नागौर से सामने आया है। जिले के बाजोली गांव के पूर्व सरपंच को वॉट्सऐप कॉल करके 10 लाख रुपए मांगे गए हैं। बाजोली पूर्व सरपंच भंवरलाल रॉयल ने इस संबंध में गच्छीपुरा पुलिस थाने में मुकदमा दर्ज करवाया है। जिस नंबर से धमकी भरा कॉल आया वह मलेशिया का बताया जा रहा है।

पीडि़त भंवरलाल रॉयल ने बताया कि 9 फरवरी को दोपहर में 2.17 बजे एक वॉट्सऐप कॉल आया। उठा नहीं पाया तो इसके बाद मैसेज आया कि कॉल उठा और बात कर। इसके बाद 2.21 बजे फिर फोन आया और कॉल करने वाले ने कहा कि लॉरेंस विश्नोई की गैंग का आदमी जेपी शूटर बोल रहा हूं। गूगल और यूट्यूब से पता कर लेना। मिलकर चल, नहीं तो नुकसान में चला जाएगा। बीच-बीच में आवाज भी कट रही थी। इतना कहकर उसने फोन काट दिया। उसका दोबारा फोन आया लेकिन पूर्व सरपंच ने उठाया नहीं। इसके बाद उस नंबर से भंवर लाल रॉयल के वॉट्सऐप पर मैसेज आया कि 10 लाख रुपए का पेमेंट ही तुझे बचा सकता है। इसके अलावा कोई और बचाने वाला नहीं है। अगर मिलकर चलना है तो बात कर नहीं तो गोली खाने के लिए तैयार रहना।

भंवरलाल ने बताया कि उसके बाद दोबारा फोन नहीं आया। इसके बाद एक दिन के लिए उस नंबर को ब्लॉक कर दिया। हालांकि फिर अनब्लॉक कर दिया लेकिन दोबारा फोन नहीं आया। भंवर लाल ने बताया कि वो जेपी शूटर नाम के किसी व्यक्ति को नहीं जानते। उसका नाम ही पहली बार सुना है लेकिन जब गांव में बच्चों से पूछा तो? उन्होंने बताया कि गांव में एक नाबालिग लड़का है जिसे जेपी शूटर बोलते हैं। जो कि अभी जयपुर बाल कारागृह में बंद है। बताया जाता है कि ये धमकी देने वाला लड़का बीकानेर में अपने ननिहाल में रहता है।

भंवरलाल रॉयल ने बताया कि वो पूर्व सरपंच हैं और वर्तमान में दक्षिण भारत में व्यवसाय करते हैं। उनकी इस नाम के किसी व्यक्ति से कोई दुश्मनी नहीं है। इस संबंध में डीडवाना साइबर सेल ने फोन कर पूरी जानकारी ली थी। हालांकि इसके आगे किसी प्रकार की कार्यवाही की कोई जानकारी उन्हें नहीं मिली है। भंवर लाल रॉयल ने पुलिस थाने में रिपोर्ट दर्ज कर सुरक्षा मांगी है।

error: Content is protected !!
Join Whatsapp 26