पहले शादी का झांसा देकर बनाया हवस का शिकार, फिर एक ओर नया कांड किया - Khulasa Online पहले शादी का झांसा देकर बनाया हवस का शिकार, फिर एक ओर नया कांड किया - Khulasa Online

पहले शादी का झांसा देकर बनाया हवस का शिकार, फिर एक ओर नया कांड किया

अजमेर अजमेर के नसीराबाद क्षेत्र निवासी एक युवती को शादी का झांसा देकर बिन ब्याही मां बनाने के बाद दुराचार के आरोपी ट्रेलर चालक ने नवजात बच्ची को अपनाने से भी इंकार कर दिया। इतना ही नहीं बल्कि युवती से मिलना भी बंद कर दिया। इसकी रिपोर्ट सिटी पुलिस थाना में पीड़ितों द्वारा देने पर सिटी पुलिस ने मुकदमा दर्ज करके दुराचार के आरोपी टोंक निवासी आरोपी को गिरफ्तार करके न्यायालय के समक्ष पेश कियाए जहां उसे पुलिस रिमांड पर सौंप दिया गया है। स्थानीय निवासी एक पीड़िता ने सिटी थाने में राजनगर संखाना टोंक निवासी 25 वर्षीय नरेश पुत्र भोजाराम के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज कराई है। इसमें बताया कि बाल्यावस्था में पिता का निधन हो गया था। वह नाच गाकर भरण पोषण करती है। इस कारण छोटे-बड़े शहरों में आना जाना लगा रहता हैण् वहींए दो वर्ष पूर्व देवली के कार्यक्रम में गई थी और वहां पर ट्रेलर चालक नरेश से जान पहचान हुई। उसने जान पहचान बढ़ाते हुए झूठे प्रेमजाल में फ ंसा लिया और शादी का झांसा दियाण् इसी क्रम में कुछ समय बाद दुबारा देवली कार्यक्रम में गई तो नरेश जबरन उसे ले गया। 15 दिन तक परबतसर में रखकर उसके साथ शारीरिक संबंध बनाए। वह बार.बार शादी का झांसा देता रहा और उसने जमा पूंजी 35 हजार रुपए और जेवरात भी ले लिए। वहीं, गर्भवती होने पर वह नसीराबाद में मां के पास यह कहकर छोड़ गया कि अपने माता.पिता से शादी की बात कर जल्दी ही उससे शादी कर लेगाए लेकिन वापस नहीं लौटा। इसी के चलते 5-6 माह गुजर जाने के बाद घरवालों को गर्भवती होने की बात पता चल गई और परिजन ने भी उसे फोन किया लेकिन वह नहीं आयाण् 22 सितंबर 2020 को उसने अजमेर के जनाना अस्पताल में पुत्री को जन्म दिया और नरेश को फोन कर कई बार बुलाया लेकिन वह अन्य लड़कियों की अश्लील फ ोटो भेजकर यहां आने और अपनाने से स्पष्ट मना कर दिया। सिटी थाना पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर नरेश को टोंक जेल से प्रोडक्शन वारंट के जरिए गिरफ्तार कर लिया। वह इन दिनों में टोंक जेल में आर्म्स एक्ट में बंद था। पुलिस ने उसे न्यायालय के समक्ष पेश किया, जहां से उसे पुलिस रिमांड पर सौंपा गया है। पुलिस रिमांड अवधि में जांच अधिकारी सिटी पुलिस थानाधिकारी भंवरसिंह प्रकरण की तस्दीक करके पुलिस कार्रवाई में जुटे हुए हैं।
error: Content is protected !!
Join Whatsapp 26