ओमिक्रॉन का खौफ , राजस्थान में जारी हुई विशेष गाइडलाइन

जयपुर । चिकित्सा विभाग के प्रमुख शासन सचिव  अखिल अरोड़ा ने प्रदेश में कोविड के प्रकरणों की बढ़ती संख्या को देखते हुए सभी जिला कलेक्टरों को विशेष दिशा निर्देश जारी किए हैं।

 अरोड़ा ने कोविड-19 टीकाकरण को बढ़ावा देने, आमजन में कोविङ समुचित व्यवहार की पालना सुनिश्चित कराने तथा जिलो में चिकित्सा सुविधाओं के ढाँचे को मजबूत करने के लिये सत्त प्रयास करने की कार्यवाही किया जाना सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं। निर्देशों के अनुसार जिला कलेक्टर के स्तर पर कोविड-19 के आ रहे केसेज की सतत समीक्षा किये जाकर कोविड-19 के मरीजों की प्रभावी कान्ट्रेक्ट ट्रेसिंग एवं आईसोलेशन की व्यवस्था सुनिश्चित करने, राज्य में सैम्पलिंग को बढ़ाने एवं प्रभावी सैम्पलिंग करने के लिये समय-समय पर विस्तृत दिशा-निर्देश दिये गये हैं तथा निर्देशों की अनुपालना करते हुये न्यूनतम 500 सैम्पल प्रति मिलियन जनसंख्या को लक्ष्य करते हुये सैम्पल लिये जावे स्थानीय आवश्यकता एवं कोविंड-19 के प्रकरणों की संख्या को देखते हुये इसमें आवश्यकतानुसार वृद्धि की जाये।कोविड-19 के प्रकरणों में पोजिटिविटी की जिला एवं ब्लॉक स्तर पर लगातार समीक्षा किये जाने की आवश्यकता है। किसी क्षेत्र में विशेष में पोजिटिविटी दर अधिक होने पर सैम्पलिंग को ओर बढ़ाया जाकर समस्त रोगियों की पहचान कर तुरन्त आईसोलेशन किया जाना सुनिश्चित किया जाये।निर्देशों में जिलों ने विशेष अभियान चलाया जाकर शेष नागरिको को प्रथम डोज एवं द्वितीय डोज लगाया जाना सुनिश्चित करने आमजन में कोविड-19 टीकाकरण की आवश्यकता के बारे में जागरूकता हेतु विशेष प्रयास करने को भी कहा है। कोविड-19 टीकाकरण एवं कोविङ समुचित व्यवहार के बारे में जागरूकता पैदा करने के लिये विशेष प्रयास किये जाये इस संबंध में स्वयं सेवी संगठनों धर्म गुरुओ व्यापारिक संगठनों एवं सभी राजकीय विभागों की बैठक आयोजित की जाकर उन्हें इसमें भागीदार बनाने का प्रयास करें।

भारत सरकार द्वारा 15 से 18 वर्ष के बच्चों के टीकाकरण एवं 60 वर्ष से अधिक आयु के लोगो, हेल्थ वर्क्स को तृतीय डोज की घोषणा की गयी है। इस संबंध में विस्तृत दिशा-निर्देश प्राप्त होने पर आपको अवगत करवा दिया जायेगा। उपरोक्त निर्देशानुसार आगामी कार्यवाही की पालना सुनिश्चित कराने के भी निर्देश दिए गए है। इसके अलावा टीकाकरण के संबंध में विशेष जागरूकता अभियान प्रारम्भ करने के लिए मिडिया, स्काउट-गाईड, एनएसएस, एनसीसी, व्यापारिक संगठन आदि का सहयोग प्राप्त किया जावे शहरी क्षेत्रों में नगरीय निकायों के द्वारा इस हेतु आमजन को जागरूक करने एवं निःशुल्क मास्क वितरण करने के लिये कार्यवाही की करने के भी निर्देश दिए। तृतीय वैव की तैयारियों के लिये जिले में ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट, नवीन ऑक्सीजन बेडस आदि की उपलब्धता एवं बालू हालत में होने की स्थिति की समीक्षा व इस संबंध में मोकड्रिल करने के भी निर्देश दिए। चिकित्सा सुविधाओं को मजबूत करने के लिये वर्तमान में चल रहे कार्यों की समीक्षा कर उन्हें शीघ्र पूर्ण करने हेतु संबंधित एजेंसी को निर्देशित किया जाना सुनिश्चित कराने और अन्तर विभागीय समन्वय भी सुनिश्चित कराने के भी निर्देश दिए हैं।

निर्देशों में मुख्यमंत्री चिरन्जीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के अन्तर्गत कोविङ- 19 रोग के उपचार को भी शामिल किया गया है। इस बाबत भी निजी चिकित्सा संस्थानों को अवगत करवाना सुनिश्चित करने व कोविड के ईलाज हेतु आवश्यक दवाओं के कय एवं स्टोरेज की व्यवस्था की समीक्षा के निर्देश दिए हैं।

error: Content is protected !!
Join Whatsapp