रोक के बाद भी धड़ल्ले से हो रहा है अवैध खनन - Khulasa Online

रोक के बाद भी धड़ल्ले से हो रहा है अवैध खनन

बीकानेर। एक ओर तो राज्य सरकार जिप्सम के अवैध खनन को लेकर गंभीर है। वहीं दूसरी ओर जिले में धड़ल्ले से अवैध खनन हो रहा है। हालात ये है कि इस बारे में स्थानीय निवासियों ने शिकायत भी कर रखी है। फिर भी कोई ठोस कार्यवाही नहीं हो रही है। मजे की बात तो ये है कि यहां के तहसीलदार को तो इस बारे में कोई जानक ारी तक नहीं है। जबकि पटवारी अपने उच्चाधिकारियों से बात करने का कहकर मामले से ही पल्ला झाड़ रहे है। मामला जिले के छत्तरगढ़ तहसील की लूणखां ग्राम प ंचायत के 17 एलकेडी का है। जहां मुरब्बा संख्या 41/30 में पिछले कई दिनों से अवैध खनन की शिकायत ग्रामवासियों ने एसडीएम को की। जिसके बाद एसडीएम ने हल्का पटवारी को प्रकरण की जांच कर मौका रिपोर्ट पेश करने के निर्देश दिए। हालाकि पटवारी ने जांच तो कर ली। किन्तु अब तक अपने उच्चाधिकारियों को इस बाबत रिपोर्ट तक पेश नहीं की। जब हमारे संवाददाता ने उनसे इस संदर्भ में बात की तो उन्होंने तहसीलदार से इस प्रकरण के बारे जानकारी लेने को कह अपना पल्ला झाड़ लिया। जबकि तहसीलदार इस प्रकार की शिकायत से अनभिज्ञ बताएं जाते है। आखिर कार्यवाही से क्यों कतरा रहे है अधिकारी जिप्सम के अवैध खनन को लेकर बार बार शिकायत के बाद भी आज भी जिले के अनेक क्षेत्रों में धड़ल्ले से अवैध खनन हो रहा है। जिसकी कार्यवाही करने से स्थानीय अधिकारी कतरा रहे है। जिससे शिकायतकर्ता को अवैध खनन करने वालों व स्थानीय अधिकारियों में सांठ-गांठ का अंदेशा बना रहता है। क्या कहते है जिम्मेदार मेरे पास किसी प्रकार की कोई शिकायत नहीं है,यदि आएगी तो बात करेंगे। आपके (रिपोर्टर)द्वारा ही मुझे पता चला है। गजेन्द्र सिंह नैण,तहसीलदार आप तो तहसीलदार जी को कह दो। रिपोर्ट पेश कर दूंगा। पटवारी
error: Content is protected !!
Join Whatsapp 26