राजस्थान में चक्रवात का असर:  बीकानेर, नागौर समेत कई शहरों में बारिश; अगले दो दिन के लिए येलो अलर्ट - Khulasa Online

राजस्थान में चक्रवात का असर:  बीकानेर, नागौर समेत कई शहरों में बारिश; अगले दो दिन के लिए येलो अलर्ट

अक्टूबर के पहले दिन शुक्रवार को जयपुर, बीकानेर, नागौर, चित्तौड़गढ़, जोधपुर, पाली, राजसमंद, उदयपुर जिलों में देर शाम बारिश हुई। अरब सागर में बने चक्रवाती तूफान शाहीन का असर माना जा रहा है, जो फिलहाल पाकिस्तान ग्वादर बंदरगाह के पास सक्रिय है। मौसम विभाग के मुताबिक, 3 अक्टूबर को भी पूर्वी राजस्थान के साथ-साथ पश्चिमी क्षेत्र के जिलों में बारिश हो सकती है। इसके लिए मौसम विभाग ने येलो अलर्ट भी जारी किया है।

जयपुर मौसम विभाग के निदेशक राधेश्याम शर्मा ने बताया कि चक्रवात का राजस्थान में आंशिक असर है। इसके अलावा शेष राजस्थान में थंडर एक्टिविटी अभी जारी है। इसी के प्रभाव के कारण आज राज्य के कई शहरों में मौसम में बदलाव आया है। जयपुर में तो शाम को बादल छाने के बाद तेज हवा चलने लगी। इसके बाद जयपुर शहर के अधिकांश क्षेत्र में देर शाम बारिश हुई। जयपुर में सिविल लाइन्स, चांदपोल, टोंक रोड, जेएलएन मार्ग, सहकार मार्ग समेत कई जगह करीब 15 मिनट तक बरसात हुई। बरसात के बाद दिनभर जो हल्की उमस थी, उससे राहत मिली। इसी तरह बीकानेर, चूरू, नागौर, अजमेर, पाली, राजसमंद, उदयपुर, बांसवाड़ा, चित्तौड़गढ़ में भी बादल छाये। कई जगह तेज हवा चलने से मौसम सुहावना हो गया। उदयपुर में 10, बीकानेर में 5.2, भीलवाड़ा में 3.2, चित्तौड़गढ़ में 7 और अजमेर में 10MM बारिश दर्ज हुई।

अब आगे क्या?

जयपुर मौसम विभाग के मुताबिक, 2 अक्टूबर को अजमेर, भीलवाड़ा, राजसमंद, चित्तौड़गढ़, प्रतापगढ़, डूंगरपुर, बांसवाड़ा और नागौर, पाली जिलों में कहीं-कहीं बिजली चमकने के साथ हल्की से मध्यम दर्जे की बारिश हो सकती है। 3 अक्टूबर को अजमेर, भीलवाड़ा, राजसमंद, चित्तौड़गढ़, प्रतापगढ़, डूंगरपुर, बांसवाड़ा, कोटा, बारां, झालावाड़ जिलों में हल्की और मध्यम दर्जे की बारिश हो सकती है। 3 अक्टूबर को पश्चिमी राजस्थान में मौसम साफ रहेगा। 4 और 5 अक्टूबर को प्रदेश में मौसम साफ रहेगा।

error: Content is protected !!
Join Whatsapp