बाफना स्कूल में “एजुकेशन ट्रांसफॉर्मेशन समिट” : शिक्षा क्षेत्र में बदलाव के लिए दिए सुझाव 

खुलासा न्यूज, बीकानेर। बाफना स्कूल में आज एक "एजुकेशन ट्रांसफॉर्मेशन समिट" का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि श्री लीलाधर मंडलोई ( भारत सरकार के दूरदर्शन व आकाशवाणी के एक्स डायरेक्टर जनरल तथा नामी-गिरामी लेखक और कवि) तथा कार्यक्रम के अध्यक्ष बीकानेर यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर प्रो विनोद कुमार थे।

सीईओ डॉ पी एस वोहरा ने बताया कि इस एजुकेशन ट्रांसफॉरमेशन समिट में बीकानेर शहर की शिक्षा के क्षेत्र से संबंधित लगभग 15 हस्तियों ने अपने विचारों को व्यक्त किया जिनमें डॉ. दिव्या जोशी, डॉ. इंद्र पुरी, नीना सिंह, किशोर राजपुरोहित, जेठमल सुथार, भूपेंद्र मिड्ढा, गौरव बिस्सा, डॉ ममता सिंह, फादर संदीप,मिसेज सीमा शर्मा, डॉक्टर मनोज कुरी, सीए सुधीश शर्मा, चंद्रशेखर श्रीमाली तथा रेनू हर्ष थे।

सीईओ डॉ. पी एस वोहरा ने बताया कि इस एजुकेशन समिट में सभी वक्ताओं ने शिक्षा के क्षेत्र में बदलाव की पुरजोर वकालत की तथा अपने विचारों के माध्यम से इस क्षेत्र में बदलाव के लिए सुझाव भी दिए। डॉ वोहरा ने बताया कि इन सभी शैक्षिक विद्वानों के विचारों को संकलित करके एक साथ प्रकाशित किया जाएगा जिससे समाज तथा नीति निर्धारकों को कुछ उपयोगी बिंदु मिल सकें।

इस अवसर पर कार्यक्रम के मुख्य अतिथि श्री लीलाधर मंडलोई ( भारत सरकार के दूरदर्शन व आकाशवाणी के एक्स डायरेक्टर जनरल तथा नामी-गिरामी लेखक और कवि) ने कहा कि शिक्षा में अनुभूति एवं अवसर के साथ-साथ प्रेम एवं करुणा का समावेश होना जरूरी है। उन्होंने कहा कि बच्चों को किसी भी परिस्थितियों से लड़ने की काबिलियत देना एजुकेशन ट्रांसफॉरमेशन का एक मुख्य कार्य होना चाहिए।

कार्यक्रम के अध्यक्ष बीकानेर यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर प्रो विनोद कुमार ने शिक्षा में भाषा, साहित्य, और संस्कृति का समावेश होने पर बल दिया। उन्होंने कहा कि शिक्षा एक व्यापार नहीं बल्कि भलाई के लिए सेवा के रूप में होना चाहिए।

कार्यक्रम के अंत में डॉ. वोहरा ने शाला प्रबंधन की ओर से सभी गणमान्य विद्वानों का सम्मान किया गया।

error: Content is protected !!
Join Whatsapp