जरूरत की खबर:सर्दियों में कम पानी पीने से हो सकती हैं कई बीमारियां

गर्मी के मौसम में पसीना होने या प्यास लगने के कारण लोगों का वाटर इन्टेक पर्याप्त होता है, लेकिन सर्दियों में ज्यादातर लोगों के साथ इसका उल्टा होता है। कम पानी पीने की वजह से कब्ज से लेकर डिहाइड्रेशन जैसी कई समस्याएं होती हैं। इसलिए सर्दी के मौसम में हेल्दी रहने के लिए वाटर इन्टेक, यानी सही समय पर पर्याप्त मात्रा में पानी पीना जरूरी है।

हमारे शरीर का करीब 60% हिस्सा पानी है और हर दिन शरीर से 2.5 लीटर पानी बाहर निकलता है। शरीर में 10 फीसदी पानी की कमी होने पर प्यास लगती है। सुबह उठने से लेकर रात में सोने तक पानी पीना सेहतमंद रहने के लिए जरूरी है। कब, कितना और कैसे पानी पिएं, इसकी जानकारी जरूरी है। आयुर्वेद के मुताबिक, सुबह उठने के बाद खाली पेट पानी पीना आपको हेल्दी रखने में मदद करता है।

वैसे तो हर किसी को करीब 8 से 10 गिलास पानी पीना जरूरी है, ताकि बॉडी और स्किन हेल्दी बनी रहे, लेकिन बॉडी में पानी की जरूरत उम्र, जेंडर, फिजिकल एक्टिविटी और प्रेग्नेंसी में अलग-अलग होती है। उसके अनुसार अगर शरीर को पानी नहीं मिला तो दूसरी परेशानियां होने लगती हैं। पानी कैसे पिएं, इसे लेकर भी एक नियम है जिसके मुताबिक खड़े होकर पानी न पिएं, जल्दी-जल्दी न पिएं, इससे किडनी और जोड़ों पर असर होता है। सर्दियों में सिर्फ नॉर्मल पानी ही नहीं बल्कि गुनगुना पानी पीना ज्यादा फायदेमंद है।

जानिए कब पिएं पानी - जब भी प्यास लगे बिना टाले पानी जरूर पिएं। - खाना खाने से आधा घंटे पहले पानी पीएं इससे वेट मेंटेन रहेगा। -खाने के एक घंटे बाद पानी पीने से शरीर फूलने या कब्ज की समस्या नहीं होगी। - हाई बीपी, कब्ज, पेट में जलन, पेशाब में जलन वाले लोगों को ज्यादा पानी पीना चाहिए।
error: Content is protected !!
Join Whatsapp