डीजीपी एमएल लाठर बोले, झूठे मुकदमे की वजह से बढ़े आंकडे़ - Khulasa Online

डीजीपी एमएल लाठर बोले, झूठे मुकदमे की वजह से बढ़े आंकडे़

जयपुर : राजस्थान बढ़ रहे अपराधों के आंकड़ों के बीच डीजीपी ने आज प्रेस वार्ता की. डीजीपी एमएल लाठर ने साफ किया है कि राज्य में हर अपराध पंजीबद्ध होने से अपराध का आंकड़ा बढ़ा है,लेकिन हकीकत यह है कि देश में दर्ज अपराधों के करीब 37 फीसदी झूठे मामले राजस्थान में दर्ज होते है. आपको बता दें कि राजस्थान पुलिस ने लगातार अपराध के आंकड़े बढ़ रहे है. प्रदेश में महिला अपराधों की बढ़ती संख्या को लेकर राज्य सरकार पर भी सवाल खड़े हो रहे है. राज्य सरकार की ओर से प्रदेश में हर अपराध पंजीबद्ध करने के निर्देश देने के बाद अपराधों का यह आंकडा बढ़ा है. इस बीच डीजीपी एमएल लाठर ने साफ किया है कि झूठे मुकदमे दर्ज होने से भी अपराध के आंकड़े बढ़ रहे है. पुलिस मुख्यालय में आयोजित प्रेसवार्ता में डीजीपी एमएल लाठर ने कहा कि कोरोना संकट के चलते लगाए गए लॉक डाउन से बीते वर्ष अपराध के आंकड़ों में कमीं दर्ज की गई, लेकिन हकीकत यह है कि वर्ष 2019 की तुलना में प्रदेश मेें अपराध कम हुए है. महिला संबंधी अपराधों के अधिकांश प्रकरणों में कोई निकट परिचित ही शामिल रहा है. अपराधों का ब्योरा पेश करते हुए डीजीपी ने कहा कि कुछ शक्तियां व्यवस्था बिगाड़ने में लगी हुई है, लेकिन कुछ अच्छी शक्तियां व्यवस्था बनाए रखने में भी जुटी हुई है. उन्होंने आंकड़े पेश कर दावा किया कि प्रदेश में एक ओर जहां अपराध का आंकड़ा कम हो रहा है.वहीं सजा का प्रतिशत बढ़ रहा है. हालांकि कोरोना संकट के चलते अदालतों की कार्रवाई प्रभावित होने से लंबित प्रकरणों की संख्या भी बढ़ी है.उन्होंने कहा कि प्रदेश में अब हर अपराध पंजीबद्ध होने लगा है.अदालतों के जरिए 34 प्रतिशत लोग मुकदमें दर्ज कराते थे,लेकिन अब ये प्रतिशत घटा है. थानों पर मुकदमे दर्ज नहीं करने वाले 18 पुलिसकर्मियों पर महकमे ने कार्रवाई भी की है.
error: Content is protected !!
Join Whatsapp