रोज आ रहे है पॉजिटिव, फिर भी सरकारी आदेशों की जमकर उड़ रही है धज्जियां - Khulasa Online

रोज आ रहे है पॉजिटिव, फिर भी सरकारी आदेशों की जमकर उड़ रही है धज्जियां

बीकानेर। एक ओर जहां बीकानेर में लगातार कोरोना पॉजिटिव के आंकड़े बढ़ते जा रहे है। वहीं दूसरी ओर शहर में सरकारी एडवाजरी की खुलेआम धज्जियां उड़ रही है। ऐसा लगता है कि मानो प्रशासन नाम की कोई व्यवस्था ही नहीं। खुलासा की टीम ने रात 9 बजे बाद शहर के अनेक क्षेत्रों में निरीक्षण किया तो पाया कि कही मिठाई की दुकानें तो कही शराब की दुकानें खुली है। वहीं कही आइसक्रीम की दुकानें खुले है। यहीं नहीं जनरल स्टोर व दवाईयों की दुकानें भी खुली रहती है। इतना ही नहीं अनेक मोहल्लों में रात को जमावड़ा रहता है और देर रात तक लोग बतियाते नजर आते है। ऐसे में न तो फिजीकल डिस्टेसिंग की पालना हो रही है और न ही रात 9 से सुबह 5 बजे तक के कफ्र्यू की पालना हो रही है। मजे की बात तो यह है कि कई क्षेत्र तो ऐसे है जहां कफ्र्यू होने के बाद भी क्षेत्र में जमावड़ा लगा रहता है। हालात यह है कि सरकारी एडवाजरी के अनुसार रात 9 बजे बाद भी लोग सड़कों पर टहलते व चौकों पर हथाई करते दिखाई देते है। कफ्र्यू क्षेत्र के दुकानदार आते है दूसरे इलाकों में मंजर ये है कि जिन इलाकों में कफ्र्यू लगा हुआ है। उनमें से अन्य क्षेत्रों दुकान लिये दुकानदार अपने प्रतिष्ठानों को नियमित रूप से खोलने दूसरे क्षेत्रों से आ रहे है। इससे आसपास के दुकानदारों व क्षेत्र केलोग आशंकित है। जबकि शिकायत के बाद भी कोई कार्यवाही नहीं हो रही है। इतना ही नहीं जैसे ही पॉजिटिव की सूचना मिलती है। वैसे ही वहां से स्थानीय लोग अपने रिश्तेदारों के यहां पलायन करते नजरआते है। न हो आशंकित,करवाएं जांच खुलासा टीम ने शहरवासियों से अपील की है कि वे क ोरोना के बढ़ते संक्रमण के चलते जरूरत पडऩे पर ही घरों से बाहर निकले और संक्रमित वाले क्षेत्रों में भी अपने घरों में सुरक्षित रहते हुए सरकारीएडवाजरी की अनुपालना जरूर करें। इन इलाकों में खुलेआम उड़ती है धज्जियां आपको बता दे कि शहर के अन्दुरूनी क्षेत्रों के साथ साथ जस्सूसर गेट,नत्थूसर गेट,मुरलीधर व्यास नगर,शीतला गेट,जिन्ना रोड,पाबूबारी,दाउजी रोड,सोनगिरी कुंआ,भुट्टो का चौराहा,चौखूंटी पुलिया,सेटेलाईट अस्पताल रोड,पुरानी गजनेर रोड,नत्थूसर बास सहित अनेक इलाके ऐसे है। जहां न केवल लोग बाहर बैठे रहते है। साथ रात्रि वॉक भी करते नजर आते है। जब इसकी शिकायत थाना क्षेत्र में की जाती है तोउनका जबाब मिलता है। उपर से दबाव है। गश्त करती है पुलिस,लेकिन कोई फर्क नहीं पड़ता गौर करने वाली बात ये है कि कफ्र्यू शुरू होने के समयावधि से एक घंटे पहले पुलिस की गश्त करती है। लेकिन छोटे दुकानदार तो बंद कर देते है,लेकिन पहुंच वाले दुकानदार धीरे धीरे बंद करते करते 10बजे तक बंद नहीं करते। यहीं नहीं कई दुकानदार तो देर रात तक खुले नजर आते है। क्या कहते है जिम्मेदार शिकायतें आ रही है,पता करवाते है। अगर ऐसा हो रहा है तो निश्चित तौर पर कार्यवाही करवाएंगे। पुलिस की व्यवस्था भी ओर मुश्तैद करेंगे। कुमारपाल गौतम,जिला कलक्टर

error: Content is protected !!
Join Whatsapp