कर्मचारियों का जुलाई में फिर बढ़ेगा DA? किस फॉर्मूले से तय होगी सैलरी, जानें AICPI पर ताजा अपडेट - Khulasa Online

कर्मचारियों का जुलाई में फिर बढ़ेगा DA? किस फॉर्मूले से तय होगी सैलरी, जानें AICPI पर ताजा अपडेट

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। . केन्द्रीय कर्मचारियों-पेंशनरों (Central Employees DA Hike) के लिए बड़ी खबर है। खबर आ रही है कि  जुलाई में एक बार फिर केन्द्रीय कर्मचारियों का महंगाई भत्ता बढ़ाया जा सकता है, हालांकि इसमें कितने प्रतिशत बढ़ोतरी होगी या नहीं या फिर 34% पर ही इसे फिक्स कर दिया जाएगा, इसका फैसला AICPI इंडेक्स के मार्च से जून के आंकड़े जारी होने के बाद तय होगा। वही माना जा रहा है कि AICPI में गिरावट आने पर, जुलाई में नए फॉर्मूले से डीए कैलकुलेट किया जा सकता है। अगर ऐसा हुआ तो इसका लाभ 1 करोड़ कर्मचारियों को मिलेगा और सैलरी में इजाफा हो सकता है।

दरअसल, केन्द्र सरकार द्वारा साल में 2 बार केन्द्रीय कर्मचारियों का  महंगाई भत्ता बढ़ाया जाता है। इसमें पहली वृद्धि जनवरी से जून तक के लिए की जाती है, जो की हो चुकी है।इसके तहत 3% डीए बढ़ाया गया है, ऐसे में अब कर्मचारियों का कुल डीए 34% हो गया है। वही दूसरी जुलाई से दिसंबर के लिए की जानी है, जो की AICPI इंडेक्स के आंकड़ों पर निर्भर करेगा।  मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, केंद्रीय कर्मचारियों के DA में जुलाई में फिर बढ़ोतरी की जा सकती है। संभावना है कि 30 अप्रैल को AICPI इंडेक्स के मार्च के आंकडे जारी किए जा सकते है, इससे तय होगा कि कितनी प्रतिशत DA में बढोतरी की जाएगी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, जुलाई वाला रिविजन जनवरी से जून 2022 के आंकड़े पर आधारित होगा।  अगर AICPI अंक में इस बार भी गिरावट देखी गई तो डीए का कैलकुलेशन नए फॉर्मूला से किया जाएगा। अगर AICPI (All India Consumer Price Index) के आंकड़ों को देखें तो दिसंबर 2021 के सूचकांक में 1 अंक की कमी से यह 0.3 अंक घटकर 125.4 अंक पर आ गया है । 12 महीनों के सूचकांक का योग 4216 तथा औसत 351.33 है। हालांकि दिसंबर 2021 तक DA 34.04% तक पहुंच गया, चूंकि डीए का निर्धारण पूर्णांक में होता है, ऐसे में इस डीए में 3% की बढ़ोतरी की गई है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, जनवरी 2022 में 0.3 अंकों की गिरवाट के बाद अंक 125.1 तो फरवरी में भी इसमें 0.1 अंक की गिरावट आई है, ऐसे में अभी 4 महीने मार्च, अप्रैल, मई, जून के आंकड़े आने अभी बाकी है। अगर AICPI इंडेक्स में सुधार होता है तो बढ़ना तय है, लेकिन अगर कमी आई तो नए फॉर्मूला एप्लाई हो सकता है।अगर AICPI इंडेक्स 124.7 के नीचे जाता है तो DA में बढ़ोतरी पर रोक लगाई जा सकती है और 124 से नीचे जाने पर भी DA को फिक्स किया  जा सकता है।हालांकि अभी 4 महीने के आंकड़े आने बाकी है। इस फॉर्मूले से होगा कैलकुलेट मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, अखिल भारतीय उपभोक्ता मूल्य सूचकांक यानी कंज्यूमर प्राइस इंडेक्स (AICPI) में लगातार गिरावट के बाद डीए का कैलकुलेशन नए तरीके से किया जा सकता है।इसके लिए श्रम मंत्रालय ने कैलकुलेशन में बदलाव किया है, जिसमें श्रम मंत्रालय ने महंगाई भत्ते के आधार वर्ष में 2016 में परिवर्तन किया है। मजदूरी दर सूचकांक की नई सीरीज के अनुसार, आधार वर्ष 2016=100 के साथ मजदूरी दर सूचकांक की नई सीरीज 1963-65 के आधार वर्ष की पुरानी सीरीज की जगह ले सकती है। DA का फीसदी= पिछले 12 महीने का CPI का औसत-115.76। जो रिजल्ट आएगा उसे 115.76 से भाग देकर 100 से गुणा कर दिया जाएगा। जुलाई 2022 डीए कैलकुलेशन जुलाई 2021- 122.8 अगस्त 2021- 123.0 सितंबर 2021- 123.3 अक्टूबर 2021- 124.9 नवंबर 2021- 125.7 दिसंबर 2021- 125.4 जनवरी 2022-125.1 फरवरी 2022- 125.0 संभावित मार्च 2022- 125.0 संभावित अप्रैल 2022- 125.0 संभावित मई 2022 – 125.0 संभावित जून 2022- 125.0 जुलाई 2022 से महंगाई भत्ता:
error: Content is protected !!
Join Whatsapp