आतंकी हमले में सीकर का सीआरपीएफ जवान शहीद, अंतिम संस्कार कल - Khulasa Online

आतंकी हमले में सीकर का सीआरपीएफ जवान शहीद, अंतिम संस्कार कल

सीकर। जम्मू कश्मीर के बारामुला जिले में बुधवार सुबह हुए आतंकी हमले में राजस्थान के सीकर जिले का बावड़ी गांव निवासी सीआरपीएफ जवान शहीद हो गया। जवान दीपचंद वर्मा सोपोर इलाके में अपने दल के साथ पेट्रोलिंग पर था। इसी दौरान घात लगाकर बैठे आतंकियों ने उनके दल पर हमला कर दिया। जिसमें दीपचंद वर्मा घायल हो गया। घायल दीपचंद को तुरंत आर्मी अस्पताल ले जाया गया। जहां उपचार के दौरान शहीद ने अंतिम सांस ली। शहादत की सूचना सीआरपीएफ ऑफिस की ओर से गांव में चाचा ओंकार मल को दी गई। जिसके बाद गांव में गम का माहौल छा गया। शहीद का अंतिम संस्कार गुरुवार को होने की संभावना है। 2003 में हुआ था भर्ती, छह महीने पहले परमोशन शहीद दीपचंद में शुरू से देश सेवा का जज्बा भरा हुआ था। वह हमेशा से सेना में जाने की इच्छा रखता था। इसी इच्छा व मेहनत से शहीद दीपचंद 2003 में सीआरपीएफ में भर्ती हुआ था। छह महीने पहले ही जवान का हवलदार पद पर परमोशन हुआ था। तीन बच्चों का पिता शहीद का विवाह सीआरपीएफ में भर्ती के एक साल बाद 2004 में हुआ। शहीद के दो जुड़वा बेटे व एक बेटी है। जो पत्नी सरोज के साथ अजमेर स्थित सेना के क्वार्टर में रहते हैं। घर में बुजुर्ग मां है। पिता की तीन साल पहले दिल व पीलिया की बीमारी से मौत होना सामने आया है। गांव में चाचा को दी सूचना जम्मूकश्मीर सीआरपीएफ ऑफिस से शहादत की सूचना अजमेर में पत्नी के अलावा बावड़ी गांव में चाचा ओंकारमल को दी गई। जिसके बाद घर में गम का माहौल हो गया। धीरे धीरे बात गांव में फैली तो गांव में शोक की लहर दौड़ गई। शहीद के घर भी ग्रामीणों की भीड़ जमा हो गई। कल होगा अंतिम संस्कार शहीद के अंतिम संस्कार को लेकर अभी तक स्थित स्पष्ट नहीं हो पाई है। संभावना है कि पार्थिव देह पहुंचने पर गुरुवार को ही शहीद का अंतिम संस्कार किया जायेगा मास्क पहनें, दो गज की दूरी रखें प्रदर्शनी में प्रदर्शित संदेशों में बार-बार हाथ धोनें, दो गज की दूरी बनाए रखनें, मास्क पहनने, और सार्वजनिक स्थानों पर नहीं थूकने की सलाह दी गई है। फेसबुक लाइव से जुड़े आमजन कोरोना जागरूकता प्रदर्शनी के उद्घाटन कार्यक्रम का बीकानेर डिस्ट्रिक्ट के फेसबुक पेज पर लाइव किया गया। कार्यक्रम में बड़ी संख्या में आमलोग भी जुड़े। प्रदर्शनी 31 जुलाई तक आमजन के अवलोकनार्थ नि:शुल्क खुली रहेगी। प्रदर्शनी के अवलोकन के लिए आने वाले सभी लोगों को सोशल डिस्टेसिंग की अनुपालना करनी होगी। इस अवसर पर मुख्य समन्वयक साक्षरता राजेन्द्र जोशी, रंगकर्मी ज्ञान गोस्वामी, एपीआरओ भाग्यश्री गोदारा सहित पत्रकार उपस्थित थे।

error: Content is protected !!
Join Whatsapp