कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष डोटासरा की फिसली जुबान, यह बयान दिया - Khulasa Online

कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष डोटासरा की फिसली जुबान, यह बयान दिया

जयपुर. कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा की शुक्रवार को जुबान फि सल गई। वे राजस्थान सरकार के देवस्थान विभाग के मंदिरों में रामनवमी पर रामायण पाठ और हनुमान जयंती पर हनुमान चालीसा के पाठ से जुड़े सवाल पर जवाब दे रहे थे। डोटासरा ने राहुल गांधी के हिंदू बनाम हिंदुत्व वाले बयान को उलटा पेश करते हुए हिंदुओं से ही झगड़ा बता दिया। जबकि राहुल गांधी ने हिंदू बनाम हिंदुत्व की लड़ाई का बयान दिया था। डोटासरा ने हिंदू और हिंदुत्व दोनों से ही झगड़ा होने का बयान दे दिया। कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा. कांग्रेस हमेशा छत्तीस कौम को साथ लेकर चलती है। सब धर्मों को मानने वाली पार्टी है। हर व्यक्ति की जो भी आस्था है। वह काम करें। हमारा झगड़ा राहुल जी कह रहे हैं हिंदू और हिंदुत्ववादियों से है। हम सब धर्मों को मानने वाले लोग हैं, लेकिन हम झूठ और नफरत फैलाने के खिलाफ हैं। भारतीय जनता पार्टी झूठ और नफरत फैलाकर विद्वेष पैदा कर एक धर्म को दूसरे धर्म के खिलाफ खड़ा करके अपनी राजनीतिक रोटियां सेक रही है। कांग्रेस ने कभी ऐसा नहीं किया। राहुल गांधी ने कहा था. मैं हिंदू हूं, हिंदुत्ववादी नहीं, महात्मा गांधी हिंदू थे और गोडसे हिंदुत्ववादी जयपुर में पिछले साल 12 दिसंबर को हुई कांग्रेस की रैली में राहुल गांधी ने कहा था कि मैं हिंदू हूंए हिंदुत्ववादी नहीं। श्महात्मा गांधी हिंदू थे और गोडसे हिंदुत्ववादीए मोदी भी हिंदुत्ववादी हैं, उन्हें सिर्फ सत्ता चाहिए। हिंदू और हिंदुत्ववादी में फ र्क होता है। हिंदू सत्य को ढूंढता है। मर जाए, कट जाए, फि र भी हिंदू सच को ढूंढता है। उसका रास्ता सत्य रहा। पूरी जिंदगी वो सच को ढूंढने में निकाल देता है। जबकि हिंदुत्ववादी पूरी जिंदगी सत्ता को ढूंढने और सत्ता पाने में निकाल देता है। वह सत्ता के लिए किसी को भी मार देगा। हिंदू का रास्ता सत्याग्रह होता है। हिंदुत्ववादी का रास्ता सत्ताग्रह होता है।

error: Content is protected !!
Join Whatsapp