सिंथेसिस ज्ञानोत्सव-2022 का रंगारंग आयोजन - Khulasa Online

सिंथेसिस ज्ञानोत्सव-2022 का रंगारंग आयोजन

बीकानेर। सिंथेसिस (प्री-मेडिकल एवं प्री-इंजीनियरिंग) संस्थान द्वारा वर्ष 2022 में संस्थान के छात्र-छात्राओं जिनका प्री-मेडिकल नीट प्रवेश परीक्षा, जेईई और अन्य प्रवेश परीक्षाओं में चयन होने पर पारितोषिक वितरण, सम्मान समारोह एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम ज्ञानोत्सव-2022 होटल भैरव निवास, बीकानेर में कल आयोजित हुआ था। कार्यक्रम का शुभारम्भ सिंथेसिस संरक्षक रेंवतमल बजाज, श्याम सुन्दर सुथार व प्रशांत गोस्वामी द्वारा माँ सरस्वती और गणेश भगवान को दीप प्रज्वलित कर एवं वंदना से शुरू किया गया। इस समारोह के मुख्य अतिथि पुष्पेन्द्र सिंह राठौड़ डीआईजी, बीएसएफ, बीकानेर एवं् अतिविशिष्ट अतिथि पूर्व संसदीय सचिव कन्हैयालाल झँवर, विशिष्ट अतिथि रेवंतराम पँवार पूर्व विधायक नोखा, डॉ. तनवीर मालावत वरिष्ठ सर्जन, श्रीराम सिंघी अध्यक्ष एमपीएस ट्रस्ट व हनुमान सुथार जीएसटी अधीक्षक बीकानेर, राष्ट्रपति द्वारा सम्मानित शिक्षिका श्रीमति सुनिता गुलाटी व दीपक जोशी तथा डूँगर महाविद्यालय के पूर्व प्राचार्य डॉ. के.डी. शर्मा सर थे। इस अवसर पर कार्यक्रम में पुष्पेन्द्र सिंह ने विद्यार्थियों की सराहना की और उन्हें आशीर्वाद दिया कि आप भी एक अच्छे डॉक्टर बनकर समाज व देश की सेवा करें व चयनित विद्यार्थियों को बॉर्डर भ्रमण करने हेतु आमंत्रित किया। सिंथेसिस संस्थान के अकादमिक निदेशक डॉ. श्वेत गोस्वामी ने बताया की इस वर्ष 125 से अधिक विद्यार्थी नीट-2022 में चयनित हुए। साथ ही साथ यह भी बताया की पूरे भारत में 1456 व्यक्ति पर 1 डॉक्टर की जिम्मेदारी है अतः यह सौभाग्य का पल भी है। साथ ही गोस्वामी ने संस्थान की विभिन्न स्कोलरशिप की जानकारी दी और बताया की 18 लाख विद्यार्थियों में से सिंथेसिस के 125 विद्यार्थियों ने जगह बनाई है यह बडे़ गर्व की बात है। सिंथेसिस के प्रशासनिक निदेशक जेठमल सुथार ने 5 फेज में विद्यार्थियों को पुरस्कार देते समय उनकी संक्षिप्त जानकारी सभागार में उपस्थित सभी लोगों के साथ साझा की। साथ ही विद्यार्थियों को यह सीख भी दी कि वह सफलता की पहली सीढ़ी है अतः उसका जश्न मनावें लेेकिन यह सफलता दिमाग में नहीं चढ़नी चाहिए। सिंथेसिस के प्रबंध निदेशक मनोज कुमार बजाज ने अपने उद्बोधन में विद्यार्थियों को जीवन में सफल व एक पेशेवर व्यक्तित्व को धारण करने को और सफलता की राह मे आने वाली हर कठिनाईयों को पार कर आगे बढ़ते रहने को कहा। ज्ञानोत्सव में प्रज्ञानम् व सिंथेसिस के कक्षा 11 वीं के भूमिका बजाज एण्ड ग्रुप, शुभम् एण्ड ग्रुप ने सांस्कृतिक प्रस्तुतियाँ दी। सिंथेसियन राहुल मीणा ने गायन व गीटार पर अलग-अलग धुनों को बजा कर सब का मन मोहित किया। इसके अलावा सिंथेसिस निदेशक डॉ. श्वेत गोस्वामी व सिंथेसियन अर्णव गोस्वामी ने युगल गायन व फैकल्टी मेम्बर मयूर बारासा, निशा पुरोहित ने सांस्कृतिक गीत की प्रस्तुति दी। कार्यक्रम में सभी अतिथियों का शिक्षकों द्वारा अपर्णा पहनाकर व पुस्तक भेंट कर अभिनंदन किया गया। ज्ञानोत्सव में प्रीमेडिकल में टोप रैंकस् लाने पर तुषार चंदन, शिवराज बिश्नोई, मनोज भादू, प्रेम प्रजापत व सिंथल के जितेन्द्र बीठू तथा जेईई में टोप रैंकस लाने पर दीपक भट्टर, स्नेह राठी को विशेष अवार्ड से सम्मानित किया गया। ज्ञानोत्सव मंे भाग लेने वाले सभी चयनित सिंथेसियन्स के अलावा पेरेन्ट्स को सम्मानित किया गया। कार्यक्रम का संचालन ज्योतिप्रकाश रंगा ने किया।
error: Content is protected !!
Join Whatsapp