निर्माण कार्य देख कलक्टर गौतम का फूटा गुस्सा, एफआईआर के आदेश

Bikaner / khulasaonline.com

कम्पनी के विरुद्ध एफआईआर और ब्लैक लिस्टेड

बीकानेर में चल रहे सरकारी कामों का आकलन हर कोई घर बैठे ही लगा सकता है। सड़कें, नाली निर्माण आदि कामों में तो लापरवाही की झलक कभी भी देखने को मिल सकती है। रविवार को खतूरिया कॉलोनी, सूर्या कॉलोनी और शिवबाड़ी क्षेत्र में अमृत योजना के तहत करवाए जा रहे कार्यों का अचानक निरीक्षण करने जिला कलक्टर कुमारपाल गौतम पहुंच गए। नगर निगम द्वारा अमृत योजना के तहत चल रहे इन कार्यों में सड़क निर्माण की क्वालिटी जब कुमारपाल गौतम ने देखी तो उनके होश उड़ गए। तुरन्त ही मौके पर उपस्थित आयुक्त नगर निगम प्रदीप गवांडे को सारा कार्य वापस करवाने के आदेश दिए अन्यथ कम्पनी को ब्लैक लिस्टेड करने के आदेश दे डाले। मामले की गंभीरता को देखते हुए सम्बन्धित के विरुद्ध एफआईआर दर्ज कराने के भी आदेश दिए गए।

हाथ से कुरेद दी पांच फुट सड़क

जिला कलक्टर कुमारपाल गौतम ने खतूरिया कॉलोनी, सूर्या कॉलोनी और शिव बाड़ी में नगर निगम द्वारा अमृत योजना के तहत करवाए जा रहे कार्यों का निरीक्षण किया। एक स्थान पर तो जिला कलक्टर ने जब नई बनी सड़क को हाथ से कुरेदा तो 2 से 5 फीट सड़क टूट गई। सड़क को देखते लग रहा था की बिना कंक्रीट जमाए धूल से भरी सड़क पर ही नई सड़क की एक पतली परत बिछा दी गई है। जिला कलक्टर ने एक दो जगह सड़क के बीचों-बीच नई बनी सड़क उखाडऩे का प्रयास किया तो वहां भी सड़क उखड़ गई। यह देखकर उपस्थित अभियंता ठेकेदार और निगम के अधिकारी अचभिंत हो गए। मौके पर मौजूद जिम्मेदारों को लताड़ा और कहा कि इसे सही करवाए तथा आगे से ऐसी लापरवाही न बरतने की चेतावनी भी दे डाली।

कलक्टर ने कहा दो करोड़ रुपए की लागत से सड़क निर्माण हो रहा है और सारा काम आम जन हित के लिए हो रहा है। इन कार्यों में यदि क्वालिटी नहीं हुई तो जनता को इसका फायदा नहीं मिलेगा। उपस्थित लोगों से भी कहा कि चल रहे कार्यों में कहीं भी गुणवत्ता की कमी दिखाई दे तो तुरन्त मुझसे सम्पर्क करें।

error: Content is protected !!