कलक्टर ने अधिकारियों को दिये निर्देश, अंबेडकर सर्किल को नो व्हीकल जोन विकसित किया जाए स्टॉपेज

बीकानेर। शहर की यातायात व्यवस्था प्रबंधन, आवारा पशुओं की धरपकड़, स्वच्छता सहित विभिन्न बिंदुओं की समीक्षा के लिए मंगलवार को जिला कलेक्टर नमित मेहता की अध्यक्षता में बैठक आयोजित हुई। इस अवसर पर मेहता ने कहा कि जयपुर, जोधपुर, जैसलमेर और श्रीगंगानगर शहर की और आने वाले मुख्य रास्तों को मॉडल तौर पर विकसित किया जाए। इन रास्तों में साफ-सफाई की प्रभावी व्यवस्था हो, प्रमुख मार्गो में आवारा पशुओं नहीं हो, निर्धारित दूरी पर डस्टबिन रहे, ट्रेफिक व्यवस्था प्रभावी हो। उन्होंने कहा कि नगर निगम और नगर विकास न्यास द्वारा इस दिशा में प्रभावी कार्यवाही की जाए। जिला कलक्टर ने आवारा पशुओं की धरपकड़ के लिए सघन अभियान चलाने तथा मुख्य रास्तों में बिना हेलमेट दो पहिया वाहन चलाने वालों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए उन्होंने कहा कि अंबेडकर सर्किल को नो व्हीकल स्टॉपेज जोन विकसित किया जाए। वही उरमूल सर्किल, म्यूजियम सर्किल सहित प्रमुख चौराहों पर यातायात व्यवस्था सुगम बनाने के लिए पुलिस परिवहन विभाग नगर निगम तथा नगर विकास न्यास द्वारा संयुक्त कार्यवाही की जाए। जिला कलेक्टर ने कहा कि नगर निगम द्वारा प्रमुख मार्गों पर पड़े बंद खोखो की जब्ती का सघन अभियान चलाया जाए। बैठक में पुलिस अधीक्षक योगेश यादव, अतिरिक्त जिला कलेक्टर (नगर) अरुण प्रकाश शर्मा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शैलेंद्र सिंह इंदौलिया, नगर निगम आयुक्त अभिषेक खन्ना, नगर विकास न्यास सचिव नरेंद्र सिंह पुरोहित, प्रादेशिक परिवहन अधिकारी ओपी मारू, जिला परिवहन अधिकारी जुगल किशोर माथुर, वृताधिकारी यातायात पुलिस दीपचंद, थाना अधिकारी प्रदीप चौहान आदि मौजूद रहे।

error: Content is protected !!
Join Whatsapp