CM बोले- इसी महीने से फ्री राशनकिट, स्मार्टफोन मिलेंगे - Khulasa Online CM बोले- इसी महीने से फ्री राशनकिट, स्मार्टफोन मिलेंगे - Khulasa Online

CM बोले- इसी महीने से फ्री राशनकिट, स्मार्टफोन मिलेंगे

खुलासा न्यूज। CM अशोक गहलोत ने इसी महीने से 90 लाख से ज्यादा परिवारों को फ्री राशन किट देने की शुरुआत करने की घोषणा की है। उन्होंने कहा- इस महीने 20-25 तारीख से हम फ्री राशन किट बांटने की कोशिश कर रहे हैं। इसी महीने से राशन किट मिलने शुरू हो जाएंगे। हम एक करोड़ 35 लाख महिलाओं को फ्री स्मार्टफोन देंगे। पहले फेज में इसी महीने से 40 लाख महिलाओं को पांच-सात हजार रुपए का स्मार्टफोन देंगे। फ्री राशन किट राशन की दुकानों से ही मिल जाएगी।

गहलोत ने कहा- पहले फेज में विधवा, एकल महिला, स्कूल जाने वाली 10वीं, 12वीं की बच्चियों को पहले मोबाइल दिए जाएंगे। मंगलवार को गहलोत 50 लाख लोगों के खातों में सामाजिक सुरक्षा पेंशन का पैसा बैंक खातों में ट्रांसफर करने के मौके पर लाभार्थी संवाद समारोह में बोले रहे थे।

पीएम मोदी पर तंज

गहलोत ने पीएम मोदी पर कहा- दिल्ली वाले कहते हैं, हमारी सरकार डबल इंजन की सरकार है। उनका एक इंजन तो फेल हो रहा है। इंजन तो यह है हमारे यहां सिंगल इंजन की सरकार होते हुए भी हम वह काम कर रहे हैं, जो देश के अंदर डबल इंजन की सरकारी नहीं कर पा रही है। वह काम राजस्थान में हो रहा है।

डबल इंजन फेल हो गया

गहलोत ने कहा- हम इतनी स्कीम्स लाए हैं। इतना विकास किया है। विधायकों ने जो मांगा है। वो दिया है। विधायकों ने कहा- कॉलेज दे दो, तहसील दे दो, एसडीओ ऑफिस दे दो, जो मांगा, मैंने दिया है। मैंने उनसे कहा- आप मांगते-मांगते थक जाओगे मैं देते-देते नहीं थकूंगा। यह मैंने कहा था इतना काम देश के किस राज्य में हो रहा है। वहां तो डबल इंजन फेल हो गया। सिंगल इंजन वाली जो सरकार है यही कामयाब है।

मेरे दोनों पैरों में फ्रैक्चर, भगवान ने चाहा रेस्ट करो

गहलोत ने क​हा- संयोग से मेरे दोनों पैरों में एक साथ फ्रैक्चर हो गया है, जो कभी होता नहीं है। एक पैर में हो सकता है, एक हाथ में हो सकता है। डॉक्टर कहते हैं, पहला केस है। जो आपके दोनों पांव के अंगूठे में फ्रैक्चर हुआ है। नाखून उखड़ गए। एक में हड्डी के टुकड़े हो गए हैं। ऐसा कभी नहीं होता है। मुझे लगता है संयोग ऐसा बैठा है। मेरे राजस्थान भर में दौरे चल चल रहे थे। भगवान ने चाहा होगा कि रेस्ट करें। लगता है इसलिए मुझे फ्रैक्चर हुआ है। अगर यह फ्रैक्चर नहीं होता तो यह प्रोग्राम घर पर करने की वजह किसी हॉल में करता। हॉल में करने के मायने ही अलग होते।

मैं जितना दर्द सह रहा हूं, उतना ही सेवा का विश्वास मजबूत

गहलोत ने कहा- मैं व्हीलचेयर पर चल रहा हूं। मैंने देखा है मेरे कितने भाई-बहन जिंदगी भर व्हीलचेयर पर चलते हैं। जो चल नहीं पाते हैं। किसी को पोलियो हो जाता है। किसी का पैर कट जाता है। क्या-क्या नहीं होता है। उन सब को भी पेंशन मिलती है। जितना मैं अभी दर्द सह रहा हूं। इससे जिंदगी जीने का मजबूत विश्वास होता है। मुझे 10 दिन हो गए। 10-15 दिन ठीक होने में और लगेंगे। जितना ज्यादा मुझे वक्त लग रहा है। उतना ही ज्यादा मैं मजबूत हो रहा हूं कि किस प्रकार से बुजुर्गों, विधवाओं, एकल नारी की सेवा करनी है।

यह सरकार की ड्यूटी है

गहलोत ने कहा- हम पेंशन बढ़ाकर और सामाजिक सुरक्षा देकर अहसान नहीं करते, यह सरकारों की ड्यूटी है। इनकी हालत अच्छी नहीं है। सरकार उनके परिवार का ध्यान रखें, यह सिक्योरिटी मिलना बहुत जरूरी है। मैं बार-बार इसके लिए मोदी जी को लेटर लिखकर भेजता हूं कि आप पूरे देश के गरीबों बुजुर्गों को सामाजिक सुरक्षा दें, सबका ध्यान रखें।

गहलोत ने 50 लाख लाभार्थियों के बैंक खातों में 1000 करोड़ रुपए ट्रांसफर किए

सीएम अशोक गहलोत ने सामाजिक सुरक्षा पेंशन के 50 लाख लाभार्थियों के बैंक खातों में 1000 करोड़ रुपए ट्रांसफर किए। जून और जुलाई की पेंशन का पैसा सीएम ने बैंक खातों में ट्रांसफर किया। गहलोत ने सामाजिक सुरक्षा पेंशन वाले लाभार्थियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बातचीत कर उनके अनुभव भी जाने। सीएम ने लाभार्थियों से जब बातचीत की तो कुछ ने उनकी तबीयत के बारे में भी पूछा।

error: Content is protected !!
Join Whatsapp 26