बीकानेर के जीरे का दुबई की ग्लोबल मंडी में डिमांड, दोगुनी कीमत पर बिकता - Khulasa Online

बीकानेर के जीरे का दुबई की ग्लोबल मंडी में डिमांड, दोगुनी कीमत पर बिकता

बीकानेर. राजस्थान में कहावत है जीरो जीव रो बैरी इसका मतलब है, जीरे की खेती रिस्की बिजनेस है। राजस्थान के किसानों ने इस कहावत को बदलकर एक नई कहावत गढ़ दी है राजस्थान का जीरा, दुनिया के लिए हीरा। आज दुबई की ग्लोबल मंडी तक राजस्थान के जीरे की डिमांड होने लगी है। हाल ही में अफ गानिस्तान और किर्गिस्तान के दो व्यापारियों ने जीरे की बढ़िया क्वालिटी को देखते हुए 50 टन का ऑर्डर दिया है। देश में जीरे के कुल उत्पादन का लगभग 28 प्रतिशत राजस्थान में होता है। पहले जीरा तो होता था लेकिन बिक्री का आंकड़ा बेहद कम था। अब किसानों की मेहनत और राजस्थानी मिट्‌टी की ताकत रंग ला रही है। मेड़ता नागौर मंडी सचिव राजेंद्र रियाड़ ने बताया कि किर्गिस्तान के रहने वाले व्यापारी सोनल शौकत और अफ गानिस्तान से व्यापारी मोहम्मद उमर मेड़ता कृषि मंडी पहुंचे थे। मनीष जाट ने बताया कि विदेशी व्यापारियों ने मेड़ता मंडी में 50 टन जीरे का ऑर्डर फ ाइनल किया है। विदेशी मंडियों में राजस्थान का जीरा दोगुनी कीमत पर बिकता है। वहीं पिछले साल राजस्थान में 1265 करोड़ का कारोबार हुआ। पिछले सीजन में उनके खेत में 600 क्विंटल जीरा हुआ था। इस बार भाव अच्छा मिला तो 300 क्विंटल जीरा 24 हजार रुपए प्रति क्विंटल के हिसाब से 72 लाख में बेच दिया और अभी लगभग इतना ही जीरा बचा हुआ हैए जिसे और ज्यादा दाम पर बेचने की तैयारी है। 25 हजार प्रति क्विंटल तक पहुंचा जीरे का भाव पिछले कुछ दिनों से यहां जीरे के भाव में लगातार तेजी बनी हुई है। कई दिनों से जीरा 22 हजार रुपए क्विंटल से नीचे नहीं उतर रहा था। वहीं 5 अप्रैल को जीरा 25000 रुपए प्रति क्विंटल के रिकॉर्ड भाव पर पहुंच गया। 3 दिनों से मंडी में जीरे की 12 हजार क्विंटल से अधिक आवक हुई है। राजस्थान में जीरे का प्रोडक्शन-टन बीकानेर- 57373 सीकर- 58384 जोधपुर- 2,29,637 जालौर- 79,458 जयपुर- 3030
error: Content is protected !!
Join Whatsapp